उत्तराखंड

सांसद ने ली विकास समन्वय एवम निगरानी समिति की बैठक, कई योजनाओं की हुई समीक्षा

Screenshot 2111 सांसद ने ली विकास समन्वय एवम निगरानी समिति की बैठक, कई योजनाओं की हुई समीक्षा

Nirmal Almora सांसद ने ली विकास समन्वय एवम निगरानी समिति की बैठक, कई योजनाओं की हुई समीक्षा

निर्मल उप्रेती, संवाददाता

आज अल्मोड़ा के विकास भवन सभागार में अल्मोड़ा -पिथौरागढ़ के सांसद अजय टम्टा द्वारा विकास समन्वय एवम निगरानी समिति समीक्षा बैठक ली गई।

 

यह भी पढ़े

21 दिन बीत जाने के बाद भी जगदीश हत्याकांड पर सीएम धामी चुप, लागों में आक्रोश, किया प्रदर्शन

 

बैठक में उन्होंने चिकित्सा, स्वास्थ्य, शिक्षा, मनरेगा, जल जीवन, मिशन, आपदा, लोक निर्माण विभाग, सिंचाई, उद्यान, कृषि, उद्योग, बन, विभाग से संदर्भित करी योजनाओं की समीक्षा की। समीक्षा बैठक के बाद उन्होंने कहा कि इस बैठक में खाश तौर पर स्वास्थ्य सैक्टर, एजुकेशन सैक्टर, मनरेगा से लोगों को रोज़गार से संदर्भित विषय को लिया। उन्होंने कहा कि अल्मोड़ा मेडिकल कॉलेज, महिला चिकित्सालय , और बेस चिकित्सालय , में स्वच्छता अभियान चलाकर स्वच्छता पखवाड़े के तहत लक्ष्य निर्धारित कर कार्य करना सुनिश्चित करें।

Screenshot 2111 सांसद ने ली विकास समन्वय एवम निगरानी समिति की बैठक, कई योजनाओं की हुई समीक्षा Screenshot 2112 सांसद ने ली विकास समन्वय एवम निगरानी समिति की बैठक, कई योजनाओं की हुई समीक्षा Screenshot 2113 सांसद ने ली विकास समन्वय एवम निगरानी समिति की बैठक, कई योजनाओं की हुई समीक्षा

 

उन्होंने बताया कि रोगियों के उपचार हेतु एक इंफास्टक्चर तैयार करें, मरीजों को यहां से बाहर उपचार हेतु जबरन रेफर न करें। उन्होने स्कूलों में संबंधित विषय में गुणवत्ता पूर्वक शिक्षा देने की बात कही ताकि बच्चे हर क्षेत्र में निपूर्ण हो यह शिक्षको की जिम्मेदारी है। सांसद ने कहा कि आपदा के कारण क्षति ग्रस्त मार्गाे को दुरुस्त करने के लिए समय अवधि निर्धारित की है पी डब्लू डी, पी एम जी एस वाई को समय परक्षति ग्रस्त मार्गाे को ठीक करें। उन्होंने कहा कि भारत सरकार द्वारा संचलित मनरेगा, जल जीवन मिशन का लाभ आम जन को मिले इसके लिए जिलाधिकारी को निर्देश दिए गए हैं।

Related posts

उत्तराखंड एडवेंचर टूरिज्म को लेकर पर्यटन विभाग की तैयारी पूरी

mahesh yadav

कोटद्वार इको टूरिज्म सर्किट विकास एवं सफारी वाहनों का संचालन योजना का हुआ शुभारम्भ

piyush shukla

चमोली में बादल फटने से तबाही, मजदूरों की झोपड़ियां मलबे में दबीं, 23 सितंबर तक भारी बारिश का अलर्ट

Saurabh