‘जिनके हाथ राम भक्तों के खून से रंगे हैं, वे सलाह न दें’

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में 2022 विधानसभा चुनाव से पहले राम मंदिर का मुद्दा फिर गरमाने लगा है। बीते दिन आप सांसद संजय सिंह ने कहा कि मंदिर निर्माण के नाम पर करोड़ों का घोटाला किया गया है। उन्होंने श्रीराम जन्म भूमि ट्रस्ट के महासचिव को ‘नटवरलाल’ तक करार दे दिया। वहीं अब इस मामले पर उत्तर प्रदेश सरकार के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य का बयान सामने आया है।

…ऐसे लोग सलाह न दें

उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि जिनके हाथ राम भक्तों के खून से रंगे हैं वे सलाह न दें। उन्होंने कहा है कि, अगर गड़बड़ी हुई है तो उसकी जांच होगी और गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ कार्यवाही होगी। उपमुख्यमंत्री ने यह भी कहा है कि भव्य मंदिर के निर्माण का कार्य चल रहा है। सभी को विश्वास है कि कहीं भी कोई गड़बड़ हुई होगी तो उसकी जांच कराई जाएगी और दोषियों के खिलाफ कार्यवाही होगी। उन्होंने कहा है कि आरोपों की जांच होगी।

विपक्षी दलों का तंज़ जारी

वहीं इस मुद्दे पर विपक्षी पार्टी लगातार सरकार को भाजपा को घेरने का काम कर रही हैं। आम आदमी पार्टी के बाद समाजवादी पार्टी और कांग्रेस लगातार तंज कस रही है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने अपने ट्वीट में लिखा है कि आस्था और भक्ति से भरे चढ़ावे का दुरूपयोग अधर्म है।

देहरादून: शासकीय प्रवक्ता सुबोध उनियाल ने की कॉन्फ्रेंस, अनलॉक प्रक्रिया की दी जानकारी

Previous article

लखनऊ: पिकअप भवन पर अभ्यार्थियों का धरना, की यह बड़ी मांग

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.