featured यूपी

कुशीनगर में सीएम योगी, ब्‍लैक फंगस के इलाज को लेकर कही बड़ी बात    

कुशीनगर में सीएम योगी, ब्‍लैक फंगस के इलाज को लेकर कही बड़ी बात    

कुशीनगर: उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ बुधवार को कुशीनगर जिले के दौरे पर पहुंचे। यहां उन्‍होंने कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण किया।

इसके बाद मीडिया से बातचीत में मुख्‍यमंत्री ने कहा कि, कोरोना और मस्तिष्क ज्वर की दृष्टि से जनपद देवरिया और कुशीनगर अत्यंत संवेदनशील रहे हैं। इंसेफेलाइटिस की दृष्टि से हमें और अधिक सतर्क रहना है।

कोरोना से मजबूती से लड़ा यूपी: सीएम

सीएम योगी ने कहा कि, देश का सबसे अधिक आबादी वाला राज्य उत्तर प्रदेश इस महामारी के खिलाफ मजबूती से लड़ रहा है। हमने ‘ट्रेस, टेस्ट एंड ट्रीट’ की रणनीति के साथ कार्य किया और इसके अपेक्षित परिणाम आज सबके सामने हैं। आज प्रदेश में रिकवरी रेट 95 फीसदी से अधिक है। क्युमुलेटिव पॉजिटिविटी रेट 03 फीसदी के आस-पास है।

यूपी में एक दिन में हुए सर्वाधिक टेस्‍ट

उन्‍होंने कहा कि, उत्तर प्रदेश में अब तक 4.77 करोड़ से अधिक कोविड टेस्ट किए गए हैं, यह संख्या देश में सर्वाधिक है। प्रदेश में हमने कोविड टेस्ट की क्षमता को निरंतर बढ़ाया है। बीते 24 घंटों में प्रदेश में 3.57 लाख से अधिक टेस्ट किए गए हैं, यह देश में सर्वाधिक है।

मुख्‍यमंत्री योगी ने कहा कि, कोरोना संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए कोविड टेस्ट आवश्यक है, उसी दृष्टि से यह अभियान चल रहा है। कोरोना प्रबंधन की हमारी नीति सफलतापूर्वक आगे बढ़ रही है। बहुत से मरीज ऐसे हैं, जिनकी कोविड रिपोर्ट निगेटिव आ चुकी है, लेकिन उनको अभी कई समस्याएं हैं। इसके लिए पोस्ट कोविड वॉर्ड की स्थापना की गई है।

ब्‍लैक फंगस का भी नि:शुल्‍क इलाज

सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि, जिन जनपदों में ब्लैक फंगस बीमारी के मरीज मिले हैं, वहां उपचार की सुविधा शुरू कर दी गई है। प्रदेश में ब्लैक फंगस से ग्रसित मरीजों का उपचार किया जा रहा है। यह उपचार भी कोरोना की तरह शासन की ओर से नि:शुल्क उपलब्ध कराया जा रहा है।

सूबे के मुखिया ने कहा कि, कोरोना की थर्ड वेव की आशंका पर अभी से तैयारियां शुरू हो चुकी हैं। सभी मेडिकल कॉलेजों में 100 बेड्स एवं जिला अस्पतालों में 25 से 30 बेड्स के PICU वॉर्ड के निर्माण की कार्यवाही प्रारंभ हो चुकी है। इससे कुछ CHC को भी जोड़ा जा रहा है, जिससे बच्चों को सुविधाएं उपलब्ध कराई जा सकें।

स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग विशेष जोर

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि, रिस्पॉन्स टाइम कम करने के लिए ‘108’ की 75 प्रतिशत एंबुलेंस को कोविड कार्य में लगाया गया है। महिलाओं और बच्चों के लिए विशेष रूप में ‘102’ की 2,200 एंबुलेंस पूरे प्रदेश में लगाई गई हैं। हमने स्वच्छता, सैनिटाइजेशन और फॉगिंग पर भी विशेष ध्यान देने को कहा है। यह कार्य कोरोना संक्रमण की चेन को तोड़ने में मदद करेगा। बरसात के बाद इंसेफेलाइटिस, मलेरिया, डेंगू जैसी बीमारियों को रोकने में भी यह मदद करेगा।

Related posts

दुश्मनों की हवा निकालने के लिए इस दिन भारत पहुंच रहा राफेल..

Rozy Ali

उत्तराखंडः कौसानी में पर्यटकों की संख्या में हुई बढ़ोत्तरी से व्यापारियों की खुशी लौटी

mahesh yadav

बिहार: मस्जिद परिसर में स्थित मदरसे में भीषण विस्फोट, ध्वस्त हुई इमारत

pratiyush chaubey