featured देश

ट्रेन में सफर के दौरान अगर कोई आपको कर रहा है परेशान, तो करें यह छोटा सा काम

ट्रेन में सफर के दौरान अगर कोई आपको कर रहा है परेशान, तो करें यह छोटा सा काम

लखनऊ: आपकी कन्फर्म शीट के साथ यात्रा के दौरान कोई अनजान व्यक्ति आपको परेशान करता है तो आप ऑनलाइन शिकायत दर्ज करा सकते है साथ ही पुलिस को भी बुला सकते है। इसकी लिए आपको ज्यादा कुछ करने की भी जरूरत नहीं होगी।

अगर कोई अनजान व्यक्ति  आपको परेशान कर रहा है यदि वह हिंसक प्रतीत होता है तो आप समझदारी दिखाते हुए उससे बचें। क्योकि आप यहां कानूनी हेल्प लेने जा रहे। इसलिए आपकी तरफ से कोई गलती नही होनी चाहिए।

आप एकबार मामले को प्रेम से सुलझाने के प्रयास करें यदि आरोपी नहीं मानता है तो प्रयास करें कि उसकी हरकतो की वीडियो बना लें ,नहीं भी बना पाए तो भी कोई बात नहीं।

शिकायत करने से पहले आपको अपनी शीट ,ट्रेन ,कोच, क्रमांक चेक करना चहिये और यह सुनिश्चित करना चाहिए कि आप अपनी शीट पर ही बैठे हैं।

अब आपको अपनी शीट घटनास्थल से थोड़ा दूर जाकर रेलवे हेल्पलाइन नंबर 139 डायल करें, डायल के पश्चात सुरक्षा साहायता का ऑप्शन पर क्लिक करें,कुछ देर में कॉल कस्टमर केअर को ट्रांसफर होगी।  यहां आपसे ट्रेन नंबर, PNR नंबर के साथ फार्मेलिटी के लिए कुछ अन्य डिटेल पूछी जायेगी।इसके बाद आपकी कंप्लेन रजिस्टर की प्रक्रिया शुरू होगी ।रजिस्टर के कुछ मिनट बाद ही आपके मोबाइल पर रेफरेंस नंबर प्राप्त होगा।

ध्यान रखें पुलिस सपोर्ट आपको अगले स्टेशन स्टॉपेज पर मिलेगा।यानी यदि आपकी ट्रेन दो स्टेशन के बीच में है तो पुलिस मदद अगले स्टेशन पर या नजदीकी ट्रेन में उपस्थिति सुरक्षा गार्ड दोनो ही आपके हेल्प के लिए जरूर आयेंगे। पहले वह आएगा जो नजदीक होगा।

ट्रेन अगले स्टॉपेज पर पहुंचते ही पुलिस मौजूद रहेगी। पुलिस के साथ कागजी कार्रवाई करने के लिए अन्य अधिकारी भी मौजूद रहेंगे।अब आप कानूनी कार्रवाई कर सकते हैं,पुलिस से अपनी बात निडरता पूर्वक कहें।

पुलिस का पहला प्रयास यही रहेगा कि मामले को बातचीत से सुलझा लिया जाए। यदि बात नहीं बनती तो आपको कुछ समय के लिए ट्रेन से प्लेटफार्म पर भी ले जाया जा सकता है। इस समय आप धैर्य रखें ओर गम्भीरता पूर्वक आपकी बात कहें। यदि आरोपी ने आपके साथ बड़ा अपराध किया हो तो कागजी कार्रवाई जरूर करें

अगर यदि संभव हो तो आरोपी को माफ भी कर सकते हैं। यह आपके विवेक पर निर्भर करेगा ध्यान रखें यदि आपके स्वाभिमान को चोट पहुंची है, तो आप इसके लिए रेलवे पर मानहानि का दावा भी कर सकते हैं।

कार्रवाई के पश्चात ट्रेन प्लेटफॉर्म से रवाना होंगी उसके 5-10 मिनट बाद आपके पास दोबारा से रेलवे की तरफ से कॉल आएगा और आपसे पूछा जाएगा कि क्या आप कार्रवाई से संतुष्ट हैं।

Related posts

इलाहाबाद: ताश के पत्तों की तरह गिराई गई पूर्व बाहुबली सांसद अतीक की बिल्डिंग

rituraj

24 जनवरी 2022 का पंचांग: सोमवार, जानें आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल

Neetu Rajbhar

हनीप्रीत को पंचकूला कोर्ट में पेशी, बढ़ी 3 दिन की रिमांड

Pradeep sharma