January 24, 2022 3:48 pm
featured भारत खबर विशेष

रूस ने आसमान पर छेड़ी जंग, मिसाइल युद्ध में कैसे बचेगा इंसान ?

russia 1 1 रूस ने आसमान पर छेड़ी जंग, मिसाइल युद्ध में कैसे बचेगा इंसान ?

जहां एक तरफ धरती पर कोरोना मौत बरपा रहा है तो वहीं दूसरी तरफ आसमान पर भी जंग जैसे हालात हो गये हैं। और इस आसमानी जंग का मोर्चा खोला है, सुपर पावर रूस ने जिसकी वजह से स्पेस पर उछाल-पुथल मच गई है।अमेरिकी सेना के स्‍पेस कमान ने कहा है कि अंतरिक्ष में चक्‍कर लगा रहे रूस के सैटलाइट कॉसमॉस 2542 पर 15 जुलाई को उसके अपने ही सैटलाइट कॉसमॉस 2543 ने मिसाइल हमला किया।

russia 2 1 रूस ने आसमान पर छेड़ी जंग, मिसाइल युद्ध में कैसे बचेगा इंसान ?
अमेरिकी स्‍पेस कमान के अधिकारी जनरल जॉन ‘जय’ रेमंड ने टाइम मैगजीन से कहा कि अमेरिकी खुफिया विशेषज्ञ रूस के जोड़े उपग्रह कॉसमॉस 2542 और 2543 पर कई महीने से नजर बनाए हुए हैं। लेकिन अब अंतरिक्ष में रूस का एक ऐसा सेटेलाइट दिख रहा है जो कि किलर सेटेलाइट है। ये अमेरिका के सेटेलाइट के नजदीक आने की कोशिश कर रहा है।इस साल मध्‍य जनवरी में दोनों ही रूसी सैटलाइट अमेरिका सेना के अरबों डॉलर के सबसे ताकतवर जासूसी उपग्रह KH-11 के पास आ गए। अभी तक यह स्‍पष्‍ट नहीं हो पाया है कि रूसी सैटलाइट अमेरिकी को धमका रहा था या उसकी निगरानी कर रहा था। इन दोनों रूसी उपग्रहों को देखकर अमेरिका सकते में आ गया। इसके बाद अमेरिका ने रूस से राजनयिक माध्‍यम से आपत्ति जताई और फिर जाकर रूसी उपग्रह अमेरिकी उपग्रह से दूर चले गए तथा पृथ्‍वी के चक्‍कर लगाने लगे।

जनरल जय ने बताया कि अमेरिकी खुफिया विश्‍लेषक लगातार रूसी उपग्रहों पर नजर बनाए हुए थे। इस बीच 15 जुलाई को रूस के अंतरिक्ष में जन्‍म लेने वाले वाले उपग्रह कॉसमॉस 2543 ने अंतरिक्ष के बाहरी इलाके में एक मिसाइल से हमला किया। उन्‍होंने कहा कि इससे अमेरिका और उसके सहयोगियों के अंतरिक्ष में मौजूद उपग्रहों के लिए खतरा उत्‍पन्‍न हो गया है। अगर स्पस में दो महा शक्ति आपस में भिड़ती हैं तो इससे पृथ्वी को काफी नुकसान होगा।

रूस के इस कदम से ब्रिटेन और जापान की टेंशन बढ़ गई है। अमेरिका और ब्रिटेन ने इसे अंतरिक्ष की शांति के लिए खतरा खड़ा कर दिया है।
आपको बता दें, अमेरिका, ब्रिटेन समेत ज्‍यादातर पश्चिमी देश अपने रोजमर्रा की जरूरतों से लेकर अत्‍यंत गोपनीय जरूरतों तक के लिए बुरी तरह से अंतर‍िक्ष पर निर्भर हैं।

https://www.bharatkhabar.com/shocking-cases-of-corona-reported-in-24-hours/

स्पेस हमले में ये सेटेलाइट खत्म हो जाते हैं तो इन देशों को भारी नुकसान होगा। इसलिए अमेरिका रूस की इस हरकत पर नजर बनाये हुए है।

Related posts

बिहार बजट आज विधान सभा में पेश , बजट में स्वास्थ्य सेवाओं पर विशेष ध्यान

Aman Sharma

चुनाव से पहले गुजरात को मिली फेरी सेवा की सौगात

Pradeep sharma

मर्डर केस के आरोपी SP फरार, SIT जांच में जुटी

Samar Khan