राजस्थान माध्यमिक बोर्ड की परीक्षाएं शुरु, इंग्लिश पेपर लीक होने की उड़ी अफवाह

जयपुर। राजस्थान माध्यमिक बोर्ड की परीक्षाएं गुरुवार से शुरू हुई हैं। शुरुआत 12वीं परीक्षा से हुई है। ये परीक्षाएं 25 मार्च तक चलेगी। इन परीक्षाओं के साथ संस्कृत विषय से अध्ययन करने वाले छात्रों की उपाध्याय की परीक्षा भी शुरू हो गई हैं।राजस्थान में 12वीं की परीक्षा में 8.69 लाख और उपाध्याय परीक्षा में करीब 4 हजार परीक्षार्थी शामिल हो रहे हैं। परीक्षा के लिए कुल 5 हजार 398 केन्द्र बनाए गए हैं।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के अध्यक्ष बी.एल. चौधरी के अनुसार सुरक्षा कारणों से 320 परीक्षा केन्द्रों को अतिसंवेदशील मानते हुए सीसीटीवी से निगरानी की जा रही है। बोर्ड की ओर से परीक्षा के दौरान प्रश्नपत्रों की सुरक्षा के लिए उन्हें परीक्षा केन्द्रों के निकट स्थित थानों और पुलिस चौकियों पर रखवाया गया है। परीक्षा के दौरान गड़बड़ियों को रोकने के लिये जिलों में जिला शिक्षा अधिकारी स्तर के अधिकारी के नेतृत्व में 68 विशेष उड़न दस्ते तैनात किए गए हैं। 10वीं की परीक्षा भी 9 मार्च से शुरू होगी और इस परीक्षा के लिए करीब 10.99 लाख छात्रों ने नामांकन कराया है।

इंग्लिश पेपर लीक होने की उड़ी अफवाह- राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड 12वीं की परीक्षाएं गुरुवार से शुरू हो गई। शहर की कई स्कूलों में सुबह की पारी में शुरू हुई परीक्षाओं में विशेष रूप से चेकिंग की गई। इस परीक्षा के बीच ही गुरुवार सुबह सोशल मीडिया पर अंग्रेजी परीक्षा का पर्चा लीक होने की अफवाह उड़ गई। जिससे शहर में एकबारगी अभिभावकों को चिंता में डाल दिया, मगर बाद में पता लगा किसोशल मीडिया पर डाला गया अंग्रेजी का पर्चा गत वर्ष का था। तब जाकर अभिभावकों ने राहत महसूस की।

राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड की परीक्षाएं गुरुवार से 12वीं की अंग्रेजी परीक्षा के साथ शुरू हो गई। सुबह के सत्र में शुरू हुई इस परीक्षा के लिए शहर में कई स्कूलों में सेंटर बनाए गए। उड़नदस्तों ने परीक्षा में नकल रोकने और फर्जी परीक्षार्थी पकड़ने के लिए विशेष रूप से चौकिंग चलाई। ग्रामीण क्षेत्रों की कुछ स्कूलों में नकल करवाए जाने की बात सामने आ रही है। कुछ स्थानों पर उड़नदस्ते पहुंचे मगर कई दूरदराज के स्थानों पर नहीं पहुंच पाए। इधर सुबह परीक्षा शुरू होने के साथ ही सोशल मीडिया वाट्सअप गु्रपों में पर्चा लीक होने अफवाह जोरदार उड़ गई, कई अभिभावकों इस अफवाह ने परेशान रखा। मगर बाद में राहत की सांस ली।