featured यूपी

मेरठ में प्रियंका बोलीं- कृषि कानून की वापसी को लड़िए, जब तक है दम साथ लड़ूंगी

मेरठ में प्रियंका बोलीं- कृषि कानून की वापसी को लड़िए, जब तक है दम साथ लड़ूंगी

मेरठ: कांग्रेस की राष्‍ट्रीय महासचिव व यूपी प्रभारी प्रियंका गांधी वाड्रा रविवार को मेरठ में सरधना के कैली गांव में किसान महापंचायत में पहुंची हैं। इस दौरान वह ट्रैक्‍टर पर सवार होकर मंच तक पहुंची थीं।

किसान महापंचायत को संबोधित करते हुए प्रियंका गांधी ने कहा, कृषि कानून को वापस लेने के लिए कितने भी वर्ष लग जाएं, लेकिन कांग्रेस आपके साथ खड़ी रहेगी। चाहे इसके लिए 100 दिन लगें या फिर 100 साल कांग्रेस और किसान पीछे नहीं हटेंगे। उन्‍होंने कहा, मुझमें जब तक दम है, तब तक लड़ूंगी।

गांव-गांव कीजिए आंदोलन: प्रियंका गांधी

कांग्रेस महासचिव ने कहा, संसद में राहुल ने किसानों की मौत का मुद्दा उठाया, लेकिन सभी चुप रहे। कोई सत्ता पक्ष का खड़ा नहीं हुआ। किसानों को आंदोलनजीवी और परजीवी कहकर अपमान किया गया। उन्‍होंने किसानों से कहा कि, जैसे दिल्ली बॉर्डर पर आंदोलन कर रहे हैं, वैसे गांव-गांव कीजिए और जब-जब आप संकट में होंगे कांग्रेस आपके साथ खड़ी होगी। हम आपके कर्जदार हैं, आपकी लड़ाई, मेरी लड़ाई है।

धीर-धीरे बंद हो जाएंगी सरकारी मंडियां

प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा, यह वही मेरठ की धरती है, जहां से पहला विद्रोह शुरू हुआ था। मेरठ की इसी धरती से आजादी की पहली लड़ाई शुरू हुई थी। किसानों ने आजादी दिलाई और बहुत से लोग शहीद हुए। लड़ाई इसलिए लड़ी थी कि अंग्रेजों का कानून किसानों का शोषण कर रहा था और उन्‍हें उचित दाम नहीं मिल पा रहा था। अब ऐसा ही इस कानून से होने वाला है।

उन्‍होंने कहा, उद्योगपति का ही नियंत्रण रहेगा। धीरे-धीरे सरकारी मंडी बंद हो जाएंगी। प्राइवेट मंडी खुलेंगी और एमएसपी (न्यूनतम समर्थन मूल्य) मिलना बंद हो जाएगा। सौदा करने वाली कंपनी से सौदा कर लिया। खरबपति के पास चले गए। खरबपति बाद में फसल लेने से मना कर दे तो किसान क्या करेगा। किसान सिर्फ एसडीएम तक जा सकेगा। वह कोर्ट नहीं जा सकेगा।

महापंचायत में पार्टी के कई वरिष्‍ठ नेता

दिल्ली से प्रियंका गांधी सड़क से होते हुए मुरादनगर, मोदीनगर होते हुए कैली पहुंचीं। कांग्रेस जिलाध्यक्ष अवनीश काजला के अनुसार, कांग्रेस महासचिव के साथ कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू, राष्ट्रीय सचिव धीरज गुर्जर, रोहित चौधरी और जुबैर खान, पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक, पूर्व एमएलए इमरान मसूद, इमरान प्रतापगढ़ी सहित पार्टी के कई वरिष्ठ नेता मौजूद रहे। इससे पहले जिला प्रशासन और पुलिस के आलाअधिकारियों ने महापंचायत स्थल का निरीक्षण किया है।

 

 

 

 

Related posts

इस राजपूत समाज ने देखी पद्मावत, कहा कोई विवाद नहीं, विरोध वापस

Vijay Shrer

भाजपा सीएम ने की शिवसेना प्रमुख की तारीफ, बोले बाघ-शेर एक मंच पर आ चुके हैं

bharatkhabar

दिल्ली जाफराबाद में सीएए को लेकर फिर बिगड़ा माहौल, मेट्रो स्टेशन के नीचे धरने पर बैठी महिलाएं

Rani Naqvi