GMC रोड देहरादून द्वारा 30से 40 बिघा जमीन पर किया गया प्लॉटिंग का कार्य हुआ ध्वस्त

देहरादून। जीएमसी देहरादून रोड़ द्वारा 30 से 40 बीघा जमीन पर अवैध रूप से प्लॉटिंक का कार्य किया जा रहा था, जिस पर कार्यवाही करते हुए एमडीडीए ने उसे ध्वस्त कर दिया है। ध्वस्त करने से पहले प्राधिकरण ने जमीन पर प्लॉटिंग करने वाले समीर खान पुत्र सिकंदर खान को नोटिस भेजा था। बता दें कि इस जमीन पर अवैध रुप से प्लॉटिंग का कार्य किया जा रहा था और उन्हें बेचा जा रहा था। इस अवैध कार्य का पता लगने के बाद प्राधिकरण ने पिछले साल 11 जुलाई को अवैध प्लॉटिंग करने वाले सिकंदर को कारण बताओं नोटिस भेजा था, लेकिन उसने नोटिस की परवाह नहीं की और अवैध काम करता रहा जिसके एवज में प्राधिकरण ने कार्यवाही करते हुए ये ठोस कदम उठाया।

इसके अलावा कुलदीप रावत, बब्बु रावत, रविन्द्र जैन, नन्दी जैन की शिमला बाईपास रोड़ पर स्थित भूडूडी गांव में लगभग 40 से 50 बिघा जमीन पर अवैध प्लॉटिंग का कार्य किया गया था जिस पर प्राधिकरण ने कारण बताओं नोटिस भेजते हुए वाद संख्या आर-0254/एस0-11/2016 योजित किया गया था, लेकिन संतोषजनक जवाब न मिलने के चलते इसे ध्वस्त कर दिया गया। इस भूमि पर मना किए जाने के बावजूद अवैध रूप से प्लॉटिंग का कार्य किया जा रहा था और इसे बेचा जा रहा था।

गौरतलब है कि इस अवैध कार्य पर प्राधिकरण की काफी समय से नजर थी और इन्हें नोटिस भेजकर प्राधिकरण इन्हें ये अवैध काम करने से रोकने के लिए एक मौका दे रहा था, लेकिन इन लोगों ने नोटिस की इज्जत भी नहीं रखी और कानून की धज्जियां उड़ात चले गए। नोटिस में प्राधिकरण ने इन लोगों से इस कार्य को करने के पीछे जवाब मांगा था। प्राधिकरण को जवाब न देने के चलते एमडीडीए का हथौड़ा इनके अवैध कार्य पर चल गया। अवैध जमीन पर कार्यवाही करने के लिए प्राधिकरण के सहायक अभियन्ता मनोज कुमार जोशी, अवर अभियन्ता नरेन्द्र तोमर और अन्य प्राधिकरण कर्मी उपस्थित रहे।