पद्मावत: राजपूतों के साथ आए हिंदू संगठन, तोगड़िया बोले नहीं होने देंगे रिलीज

जयपुर। संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को लेकर देशभर में राजपूत समाज द्वारा विरोध हो रहा है। इसी कड़ी में अब विश्व हिंदू परिषद् भी कूद पड़ा है। वीएचपी के अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया ने कहा है कि हम पद्मावत फिल्म को रिलीज नहीं होने देंगे। उन्होंने कहा कि वीएचपी के कार्यकर्ता देशभर में फिल्म पद्मावत का विरोध करेंगे। तोगड़िया ने कहा कि जहां भी प्रदर्शन होगा लोकतांत्रिक तरीके से होगा। अहमदाबाद से जयपुर पहुंचे तोगड़िया ने कहा कि वीएचपी भी फिल्म के विरोध में आंदोलन करेगी क्योंकि ये अपमान सिर्फ राजपूतों का ही नहीं है, बल्कि सभी जाति के हिंदुओं का है। उन्होंने कहा कि राजपूत महिलाओं के साथ सभी जाति की हिंदू महिलाओं ने जौहर किया था। 

तोगड़िया ने कहा कि जब जलिकट्टू पर सुप्रीम कोर्ट ने रोक के आदेश दिए थे तब केंद्र सरकार ने हिंदुओं के स्वाभिमान के लिए सुप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ ऑर्डिनेंस पास किया था। तोगड़िया ने पीएम मोदी से मांग करते हुए कहा कि केंद्र सरकार पद्मावत फिल्म के रिलीज संबंधी सप्रीम कोर्ट के आदेश के खिलाफ ऑर्डिनेंस निकालकर हिंदुओं के स्वाभिमान की रक्षा करें। गौरतलब है विश्व हिन्दु परिषद से करीब सात करोड़ से ज्यादा लोग जुड़े हुए है। इन दिनों प्रवीण तोगड़िया आरएसएस के साथ अपने नरम-गरम रिश्तों को लेकर सुर्खियों में हैं। प्रवीण तोगड़िया के इस नए ऐलान से निर्माता-निर्देशक संजय लीला भंसाली की परेशानियों और बढ़ सकती हैं।

आपको बता दें कि राजस्थान और मध्य प्रदेशक सरकार ने इस फिल्म के रिलीज के विरोध में सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई है, जिस पर कल सुनवाई होनी है। दोनों सरकारों ने कानून व्यवस्था का हवाला दे कर अपने-अपने राज्यों में फिम रिलीज नहीं करने की अनुमति देने की मांग की है। वहीं दूसरी और करणी सेना देश के कई राज्यों में उग्र प्रदर्शन कर रही है, जिसे लेकर सभी राज्यों की सरकारें सतर्क हैं और व्यवस्था बनाए रखने को लेकर परेशान हैं।