सशक्त और आत्मनिर्भर नारी ही कर सकती हैं श्रेष्ठ समाज का निर्माण: चिदानन्द

ऋषिकेश। ग्लोबल इण्टफेथ वाश एलायंस परमार्थ निकेतन द्वारा महिलाओं को स्वस्थ एवं आत्मनिर्भर बनाने हेतु प्रथम चरण में श्यामपुर, हरिद्वार में ’स्वच्छता शक्ति ब्रांड’ स्वच्छता (सेनेटरी) पैड बनाने का शुभारम्भ किया गया। उसी के अंतर्गत महिलाओं को स्वस्थ एवं सशक्त बनाने के लिये स्वच्छता पैड निर्माण सेन्टर का शुभारम्भ किया गया। ग्लोबल इण्टरफेथ वाश एलायंस के अन्तर्गत ’विमेन फॉर वाश’ कार्यक्रम के तहत श्यामपुर की महिलाओं को पहले स्वयं सहायता समूहों से जोड़ा गया। फिर उन्हें परमार्थ निकेतन द्वारा मासिक स्वच्छता, स्वास्थ्य एवं स्वच्छता पैड के उपयोग के विषय में प्रशिक्षण दिया गया।

uttrakhand
uttrakhand

बता दें कि स्वामी चिदानन्द सरस्वती महाराज ने कहा कि शक्ति से तात्पर्य ताकत से है, इस नई पहल के माध्यम से हम अपने समुदाय की, राज्य की, राष्ट्र की माताओं, बहनों एवं बेटियों के लिए अधिक शक्तिपूर्ण जीवन एवं सशक्त भविष्य का निर्माण कर पहुंचेंगे।डिवाइन शक्ति फाउण्डेशन की अध्यक्ष एवं जीवा की अन्तर्राष्ट्रीय महासचिव डाॅ साध्वी भगवती सरस्वती ने कहा कि ’स्वयं के द्वारा निर्मित उत्पादों से स्वयं के लिये बेहतर भविष्य का निर्माण करना गौरव की बात है। यह रोमांचक समय है जब हमारे देश की सीमित शिक्षा वाली बहनें और बेटियां अपनी स्वच्छता और आत्मनिर्भरता के लिये स्वयं खड़ी होकर देश की प्रगति को अपने हाथों स्वर्णिम अक्षरों में लिख रही है।

वहीं इससे विकसित भारत का दृश्य परिलक्षित हो रहा है। अब माहवारी स्वच्छता के अभाव में हमारी बेटियों को स्कूल छोड़ना नहीं पड़ेगा। स्थानीय स्वयं सहायता समूह की अध्यक्ष बचुली देवी ने कहा कि ’जब हमारी पंचायत में हमारी बहनें ही ये साफ-सुथरे और कम कीमत वाले पैड बनाकर बेचेंगी तो हमें और हमारी बेटियों और बहुओं को माहवारी से जुड़ी शर्म और असुविधा से छुटकारा मिल जायेगा।

साथ ही ग्लोबल इण्टरफेथ वॉश एलायंस की कार्यक्र्रम व विकास निदेशक स्वामिनी आदित्यनन्दा सरस्वती ने कहा, ’हर घर और गांव में यह खबर हो कि अब सभी बहनों और बेेटियों के लिये स्वच्छता क्रान्ति का समय है। एक अधिक स्वस्थ और खुशहाल विश्व के लिए महिलाओं द्वारा महिलाओं के लिए रची गयी इस नई पहल के जरिये सभी अकेलेपन, कलंक और कष्ट के सायों से उबर कर गर्व से खड़ी हो सकेंगी।’स्वच्छता शक्ति ब्रांड’ स्वच्छता (सेनेटरी) पैड के शुभारम्भ अवसर पर ग्रामप्रधान और अन्य ग्रामीण उपस्थित रहे।