नदी तल उपखनिज लॉटों के आवंटन और खनिकर्म विभाग द्वारा ऑनलाईन ई-नीलामी

देहरादून। नदी तल उपखनिज लॉटों के आवंटन हेतु भूतत्व एवं खनिकर्म विभाग द्वारा ऑनलाईन ई-नीलामी की प्रक्रिया विगत जनवरी माह से गतिमान है। वर्तमान में राज्य के पर्वतीय जनपदों के उपखनिज लॉटों के आवंटन की ई-नीलामी प्रक्रिया गतिमान है। जिसके अन्तर्गत बुधवार, 11 अप्रैल 2018 को जनपद उत्तरकाशी के 02 उपखनिज लाॅटों के लिये ई-नीलामी प्रक्रिया सम्पन्न हुई।

बता दें कि जनपद उत्तरकाशी, तहसील बड़कोट, ग्राम सुनारा के क्षेत्रफल 1.00 है0 के आधार मूल्य 1,15,500/- रूपये से जबरदस्त परस्पर प्रतिस्पर्धा दिखाते हुये 23,50,221/-रूपये आधार मूल्य का 20.35 गुना प्राप्त हुआ है। जनपद उत्तरकाशी तहसील डुण्डा ग्राम सिंगोटी-2 क्षेत्रफल 0.637 है0 के आधार मूल्य 2,94,385/-रूपये से जबरदस्त परस्पर प्रतिस्पर्धा दिखाते हुये 65,21,128/- रूपये आधार मूल्य का 22.15 गुना प्राप्त हुआ है।

वहीं इसके अतिरिक्त 06 अप्रैल, 2018 को जनपद पौड़ी गढवाल तहसील श्रीनगर, ग्राम पुराना श्रीनगर क्षेत्रफल 1.00 है0 एवं जनपद पिथौरागढ, तहसील डीडीहाट के ग्राम चोपड़ा के क्षेत्रफल 0.401 है0 के ई-नीलामी के दौरान ई-नीलामी सॉफ्टवेयर में तकनीकी अवरोध हो जाने के कारण अन्तिम चरण में पहॅुचने से पूर्व ही अवरूद्ध हो गयी थी। जिसे बीते बुधवार को उसी स्तर से पुनः प्रारम्भ किया गया। जिसकी पूर्व सूचना बोलीदाताओं को उपलब्ध करा दी गयी थी। जिसके परिणाम भी उत्साहवर्धक रहे।

साथ ही जनपद पौड़ी गढवाल, तहसील श्रीनगर, ग्राम पुराना श्रीनगर क्षेत्रफल 1.00 है0 के आधार मूल्य 8,08,500/- रूपये से जबरदस्त परस्पर प्रतिस्पर्धा दिखाते हुये 1,40,01,588/- रूपये जो कि आधार मूल्य का लगभग 17.32 गुना प्राप्त हुआ है। जनपद पिथौरागढ, तहसील डीडीहाट के ग्राम चोपड़ा के क्षेत्रफल 0.401 है0 के आधार मूल्य 46,200/-रूपये के सापेक्ष कुल 4,62,231/- रूपये आधार मूल्य का लगभग 10 गुना प्राप्त हुआ है। निदेशक खनन श्री विनय शंकर पाण्डेय द्वारा बताया गया कि पर्वतीय जनपदों में बोलीदाताओं के मध्य जबरदस्त उत्साह देखने को मिला रहा है। आॅनलाईन ई-नीलामी की प्रक्रिया बहुत ही शांतिपूर्ण चल रही है तथा बोलीदाता ऑनलाईन प्रक्रिया से संतुष्ट है।