Breaking News featured बिहार भारत खबर विशेष

आजकल तेज प्रताप यादव का ट्विटर है खामोश, जानें क्या है पूरा मामला

tej pratap yadav आजकल तेज प्रताप यादव का ट्विटर है खामोश, जानें क्या है पूरा मामला

बिहार – पटना (बिहार) से एक खबर आ रही है कि अपनी ही पार्टी राजद के प्रदेश अध्‍यक्ष और पिता लालू प्रसाद यादव के करीबी जगदानंद सिंह के खिलाफ बयान देने के ठीक बाद से तेज प्रताप यादव की इंटरनेट मीडिया खासकर ट्वटिर पर गतिविधियां एकदम सुस्‍त पड़ गई है। आम तोर पर ऐसा नहीं होता कि बिहार में चल रही हर राजनीतिक हलचल पर तेज प्रताप की निगाह न हो और वे इसको लेकर अपनी राय ट्वटिर पर शेयर न करे।

ये है पूरा मामला –
13 फरवरी को राजद के प्रदेश कार्यालय में मामला तब बिगड़ गया था जब तेज प्रताप यादव के वहां पहुंचने पर उनके स्‍वागत के लिए जगदानंद अपने कमरे से बाहर नहीं निकले। इसको लेकर उन्‍होंने मीडिया के कैमरे के सामने बयान दिया और खुलेआम नाराजगी जाहिर की थी। तेज प्रताप ने कहा था कि जगदानंद जैसे लोगों के चलते ही लालू यादव बीमार हुए है। उन्‍होंने यह भी कहा था कि लालू यादव की जेल से रिहाई के लिए आजादी पत्र अभियान में भी जगदानंद रुचि नहीं ले रहे है। साथ ही आपको बता दे कि राजद की ओर से मुख्‍यमंत्री पद का चेहरा और तेज प्रताप के छोटे भाई तेजस्‍वी यादव भी इस पूरे मामले को लेकर चिंतित दिखे। इस वाकये के तुरंत बाद तेजस्‍वी ने जगदानंद सिंह से बंद कमरे में मुलाकात कर पूरे मामले को खत्‍म करने की कोशिश की। बताया जा रहा है कि मामला अब भी असमंजस में है।

मामले से पहले लगातार किये थे ट्वीट –
बता दे कि तेज प्रताप यादव ने आखिरी ट्वीट दो दिन पहले किया था। इस ट्वीट के जरिये उन्‍होंने पश्चिम बंगाल में कोकिन के साथ पकड़ी गई भाजपा नेत्री पामेला गोस्‍वामी को लेकर तंज कसा था।15 फरवरी को उन्‍होंने पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमत को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की बढ़ती दाढ़ी से जोड़कर तंज कसा था। 14 फरवरी को उन्‍होंने पुलवामा आतंकी हमले के शहीदों को श्रद्धांजल‍ि दी थी। 13 फरवरी को उन्‍होंने एक न्‍यूज मीडिया संगठन के ट्वीट को रिट्वीट किया था। यह ट्वीट उसी वीडियो का एक हिस्‍सा था जिसमें तेज प्रताप जगदानंद पर हमलावर हुए थे। 12 फरवरी को तेज प्रताप ने बिहार में कोरोना जांच में हुई गड़ब‍ड़‍ियों को लेकर ट्वीट किया। 11 फरवरी को उन्‍होंने दो, 10 फरवरी को एक, नौ फरवरी को दो, आठ फरवरी को एक, चार फरवरी को दो और एक फरवरी को चार ट्वीट किये थे। एक फरवरी को उनके सारे ट्वीट केंद्र सरकार के आम बजट को लेकर थे। इसी दिन केंद्रीय वित्‍त मंत्री निर्मला सीतारमण ने केंद्रीय आम बजट 2021-22 पेश किया था। इस बजट पर तंज कसते हुए तेज प्रताप ने चार-चार ट्वीट कर डाले, लेकिन सोमवार को जब बिहार सरकार का बजट पेश हुआ तो तेज प्रताप कहीं भी अपनी राय जाहिर करते नहीं दिखे।

Related posts

पूर्व विदेश राज्य मंत्री ई अहमद की तबियत बिगड़ी, RML अस्पताल में भर्ती

shipra saxena

पीएम के साथ 80 मिनट की हुई इस मुलाकात में जानें क्या रहा खास? यहां पढ़ें पूरी खबर

Shailendra Singh

भारत और थाइलैंड संयुक्त युद्धाभ्यास मैत्री 2018 का समापन हुआ

mahesh yadav