Breaking News featured दुनिया

अस्तित्व में आया नया देश, स्पेन से अलग हुआ कैटेलोनिया

catalonia अस्तित्व में आया नया देश, स्पेन से अलग हुआ कैटेलोनिया

मैड्रिड। सालों से अलग देश के लिए चली आ रही कैटेलोनिया के नागरिकों की मांग मंजूर हो गई है। कैटेलोनिया के स्पेन से अलग होने के बाद यूरोप में एक नया देश अस्तित्व में आ गया है। कैटेलोनिया की संसद में हुए मतादन के बाद उसे स्वतंत्र राष्ट्र घोषित कर दिया गया, हालांकि स्पेन अभी भी इस फैसले के खिलाफ है। दरअसल स्पेन की संसद कैटेलोनिया को लेकर एक बैठक करने वाली थी, लेकिन इससे पहले ही कैटेलोनिया की संसद ने मतदान की घोषणा कर दी। मतदान के बाद स्पेन की संसद ने आपात बैठक बुलकर कैटेलोनिया को एक अलग राष्ट्र घोषित कर दिया।

स्पेन के पीएम ने कैटेलोनिया की संसद को भंग करके वहां 21 दिसंबर को क्षेत्रिया चुनाव कराने की घोषणा भी कर दी है, यानी की अब कैटेलेनिया के भविष्य पर पूरी तरह से मुहर 21 दिसंबर को लग जाएगी। इससे ये माना जा रहा है कि स्पेन में संवैधानिक संकट उत्पन्न हो सकता है। कैटेलोनिया की बात करे तो इस 75 लाख की आबादी वाले देश में ईसाई बहुसंख्यक है और इसकी राजधानी बार्सिलोना को बनाया गया है। इस नए देश के अस्तित्व में आने से पहले स्पेन की सरकार ने वहां के अलगाववादी नेता को आगह किया था कि उनके पास कानून व्यवस्था में लौटने के लिए सिर्फ तीन दिन शेष बचे है।

catalonia अस्तित्व में आया नया देश, स्पेन से अलग हुआ कैटेलोनिया

स्पेन की सरकार की तरफ से तय शुरुआती सीमा को लेकर कैटेलोनिया के मौजूदा राष्ट्रपति चार्ल्स पुइगदेमोंत ने स्पेन के प्रधानमंत्री मारियानो राजोय के साथ बातचीत से मुद्दा सुलझाने का आह्वान किया था। इसी के साथ उन्होंने मैड्रिड की तरफ से हां या ना के जवाब को लेकर कुछ नहीं कहा था। देश के अस्तित्व को लेकर शुक्रवार को ही मुहूर लगनी तय मानी जा रही थी, जब मारियानो ने स्पेन की संसद से कैटेलोनिया के अधिकारियों को बर्खास्त कर दिया था। वहीं कैटेलोनिया के अलग देश बनने के बाद मारियाानों ने स्पेन के लोगाों से शांति बनाए रखने को कहा है।  उन्होंने कहा कि कैटेलोनिया में जल्द ही कानून व्यवस्था दुरुस्त कर ली जाएगी।

दरअसल, आर्थिक मंदी और सार्वजनिक खर्चों में कटौती के बाद से ही कैटेलोनिया की आजादी की मांग तेज हो गई थी। वहीं कैटेलोनिया की राजधानी बार्सिलोना में संसद के बाहर लगी स्क्रीन में लोग लगातार मतदान की प्रक्रिया पर नजर रखे हुए थे और जैसे ही कैटेलोनिया को आजाद मुल्क घोषित किए जाने के पक्ष में प्रस्ताव पास हुआ, वैसे ही सभी खुशी से झूम गए। जनमत संग्रह के नतीजों के मुताबिक 90 फीसदी लोग कैटेलोनिया को अलग राष्ट्र बनाने के पक्ष में थे।

Related posts

शादी रूकने से गुस्साया दुल्हा, उठाया ऐसा कदम पुलिस भी हो गई परेशान

Shagun Kochhar

अलीगढ़ कांड के बाद एक्शन में यूपी पुलिस 20 दिन में कच्ची शराब की 72 भट्ठियां ध्वस्त

Shailendra Singh

बुद्ध पूर्णिमा: भारत ही नहीं, इन देशों में भी मचती है बुद्ध जयंती की धूम

Shailendra Singh