Breaking News दुनिया

नेपाल ने दिया चीन को झटका, हाईड्रो प्रॉजेक्ट निर्माण के लिए चीन से वापस लिया ठेका

china nepal flag big nh नेपाल ने दिया चीन को झटका, हाईड्रो प्रॉजेक्ट निर्माण के लिए चीन से वापस लिया ठेका

काठमांडु। नेपाल ने चीन को बड़ा झटका देते हुए हाइड्रो प्रॉजेक्ट के लिए चीन की कंपनी को दिए गए ठेके को रद्द कर दिया है। नेपाल के उप प्रधानमंत्री कमल थापा ने ट्विट कर इस बात की जानकारी देते हुए लिखा कि बुढ़ी गंडकी हाईड्रोपावर प्रॉजेक्ट पर चीनी कंपनी के ठेके को रद्द करने की जानकारी दी है। रिपोर्ट की माने तो ये प्रॉजेक्ट अब भारत की कंपनी एनएचपीसी को मिल सकता है। थापा ने लिखा कि संसदीय समिति के निर्देश के बाद कैबिनेट मीटिंग में चीनी कंपनी गजूबा ग्रुप के साथ किए गए समझौते को खत्म कर दिया गया है।china nepal flag big nh नेपाल ने दिया चीन को झटका, हाईड्रो प्रॉजेक्ट निर्माण के लिए चीन से वापस लिया ठेका

हालांकि इस संबंध में पूछे जाने पर चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि उन्हें इसकी जानकारी नहीं है। उन्होंने कहा कि चीन और नेपाल के संबंध काफी अच्छे हैं और कई क्षेत्रों में द्विपक्षीय सहयोग के तहत काम हो रहा है। नेपाल की सरकार के ये फैसला इसलिए भी महत्वपूर्ण माना जा रहा है क्योंकि ये समझौता नेपाल के ओबोर में शामिल होने की सहमति देने के बाद ही अस्तित्व में आया था।  करीब एक साल पहले नेपाल की प्रचंड सरकार में चीन की कंपनी गजूबा वाटर ऐंड पावर कंपनी लिमिटेड ने इस प्रॉजेक्ट को हासिल किया था। इस प्रॉजेक्ट के तहत नेपाल के केंद्रीय और पश्चिमी क्षेत्रों में बुढ़ी गंडकी के ऊपर वाटर स्टोरेज डैम बनाए जाने थे।

नेपाल का ये कदम ‘वन बेल्ड वन रोड’ जैसी योजना से क्षेत्रीय कनेक्टिविटी बढ़ाने में जुटे चीन के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है। ऐसी संभावना है कि नेपाल का यह निर्णय भारत से प्रभावित है। वर्षों से भारत पर निर्भर रहने वाले नेपाल के लिए चीन खासतौर पर हाइड्रो प्रॉजेक्ट्स के लिए एक आकर्षक विकल्प बन रहा था, लेकिन पेइचिंग के सामने अब एक और खिलाड़ी उतर गया है।

Related posts

सेंसेक्स-बीएसई बढ़त के साथ हुआ बंद, निवेशकों की बाजार में दिलचस्पी ने दिलाई रौनक

Trinath Mishra

राजनाथ असम पहुंचे, बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण

bharatkhabar

अक्टूबर में खुदरा मुद्रास्फीति 4.62 प्रतिशत तक बढ़ी, बाजार में जगी उम्मीद

Trinath Mishra