featured देश

करनाल: तीसरे दिन भी डटे रहे किसान, नहीं बनी प्रशासन से सहमति, अनिल विज बोले- बिना जांच के किसी को सूली पर नहीं लटका सकते

pic 2 करनाल: तीसरे दिन भी डटे रहे किसान, नहीं बनी प्रशासन से सहमति, अनिल विज बोले- बिना जांच के किसी को सूली पर नहीं लटका सकते

हरियाणा के करनाल में किसानों की प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी रहा। प्रशासन और किसानों की बीच अब तक सहमति नहीं बन पाई है। जिसके चलते किसान लगातार करनाल में डटे हुए हैं।

तीसरे दिन भी जारी रहा किसानों का धरना प्रदर्शन

हरियाणा के करनाल में किसानों की प्रदर्शन तीसरे दिन भी जारी रहा। प्रशासन और किसानों की बीच अब तक सहमति नहीं बन पाई है। जिसके चलते किसान लगातार करनाल में डटे हुए हैं। किसानों की मांग है कि 28 अगस्त को करनाल में किसानों पर हुए लाठीचार्ज का आदेश देने वाले अधिकारी आयुष सिन्हा को सस्पेंड करें और उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की जाए।

आधी रात तक और बढ़ाई गई इंटरनेट पर पाबंदी

हरियाणा में किसानों के प्रदर्शन को देखते हुए सरकार ने गुरुवार आधी रात तक जिले में मोबाइल इंटरनेट सेवाओं को बंद रखने के आदेश दिए हैं। गृह विभाग की ओर से आदेश जारी कर कहा गया कि करनाल में मोबाइल इंटरनेट सेवाएं सुबह सात बजे से रात 12 बजे तक निलंबित रहेंगी।

बिना जांच किए किसी को सूली पर नहीं चढ़ाया जा सकता- विज

वहीं एक ओर जहां किसान प्रदर्शन से हटने को तैयार नहीं हैं तो दूसरी ओर हरियाणा सरकार कि ओर से बिना जांच के कोई आदेश देने से सख्त इंकार कर दिया है। हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने अपने एक बयान में कहा कि सरकार एक आईएएस अधिकारी की विवादित टिप्पणियों और किसानों पर पुलिस लाठीचार्ज समेत पूरे करनाल प्रकरण की जांच कराने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि किसी को बिना जांच के सिर्फ इसलिए सूली पर नहीं चढ़ाया जा सकता क्योंकि कोई इसकी मांग कर रहा है। विज ने आगे बोलते हुए कहा कि क्या देश की भारतीय दंड संहिता और किसानों की आईपीसी अलग है।

अभी तक नहीं बनी प्रशासन और किसानों के बीच सहमति

बता दें कि किसानों पर लाठीचार्ज का आदेश देने वाले आयुष सिन्हा का सराकर ने पिछले दिनों तबादला कर दिया था। जिसके बाद किसानों की ओर से लगातार उनको सजा देने की मांग की जा रही थी। इसी को लेकर किसानों ने महापंचयत कर प्रशासन के सामने अपनी मांगे रखी थी। लेकिन अभी तक कोई सहमति नहीं बन पाई है। जिसके चलते किसान सचिवालय के बाहर ही धरना प्रदर्शन पर बैठ गए हैं। प्रदर्शनकारियों ने कहा कि वे जिला मुख्यालय पर अपना धरना ‘‘अनिश्चितकाल’’ तक जारी रखेंगे।

Related posts

कोरोना से देश जीत रहा है जंग, 14 राज्यों में रिकवरी रेट पहुंचा 90 प्रतिशत से ज्यादा

Rahul

देश के लौह पुरुष की पुण्यतिथि आज, पीएम और गृह मंत्री ने किया नमन

Shagun Kochhar

जेल में कैदी नंबर 9435 कहलाएंगी शशिकला

shipra saxena