देश भारत खबर विशेष

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण करेंगी।जीएस टी की अहम बैठक, में हो सकते हैं पेट्रोल, डीजल और ऑनलाइन फूड डिलिवरी ऐप्स पर बड़े फैसले

nirmla sitaraman. team 5 वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण करेंगी।जीएस टी की अहम बैठक, में हो सकते हैं पेट्रोल, डीजल और ऑनलाइन फूड डिलिवरी ऐप्स पर बड़े फैसले

जीएस टी की अहम बैठक कल  उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में सुबह 11 बजे होने वाली  है।  इस बैठक की अध्यक्षता वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण करेंगी। बता दें कि ये बैठक काफी अहम होने वाली है। क्योंकि इस बैठक में कई मुद्दों पर बातचीत हो सकती है।  साथ ही  इस बैठक में  सभी राज्यों के वित्त मंत्री  शामिल होंगे।  इस बैठक में प्रेटोल, डीजल, फूड डिलीवरी ऐप्स के अलावा कोविड19  के इलाज में इस्तेंमाल होने वाले समानों को लेकर चर्चा हो सकती है।

पेट्रोल-डीजल हो सकते हैं GST शामिल

बता दें कि पेट्रोल-डीजल को जीएस टी में शामिल किया जा सकता है।कल होने वाली GST काउंसिल की बैठक में पेट्रोलियम उत्पादों को GST के दायरे में लाने पर चर्चा हो सकती है। बता दें कि अगर जीएसटी सिस्टम में कोई भी बदलाव करना हो तो उसमें पैनल के तीन-चौथाई से अप्रूवल की जरूरत होती है। इसमें सभी राज्यों और क्षेत्रों के प्रतिनिधि शामिल होंगे। वहीं इस प्रस्ताव से कुछ लोगों ने नारजगी जताई है।

फूड डिलिवरी ऐप्स

फूड डिलिवरी ऐप्स जैसे जोमेटो, स्वीगी से खाना मांगने पर अब आपको  GST देना पड़ सकता है। इसे लागू करने के लिये  विचार हो सकता है।आपको बता दें कि  फूड डिलिवरी ऐप्स को कम से कम 5 परसेंट GST के दायरे में लाने की बात चल रही है। फूड एग्रीगेटर को ई-कॉमर्स ऑपरेटर माना जाये अगर ऐसा होता है तो आपको अपनी जेब ढीली करनी पड़ सकती है।

जीएसटी ई पोर्टल

इसके अलावा जीएसटी कंप्लायंस और कॉमन जीएसटी ई पोर्टल को लेकर भी बातचीत की जा सकती है। साथ ही फार्मा सेक्टर में भी कुछ बदलाव किये जा सकते हैं।  से जुड़े जीएसटी काउंसिल राज्यों को मिलने वाले कंपनसेशन सेस को 2022 के आगे बढ़ाने पर भी विचार हो सकता है। आपको बता दे कि इस बैठक में कोविड-19 के समानों पर छूट दी जा सकती है। COVID  की जंग जीती जा सके, इसके लिये कई प्रोडक्ट्स और सर्विसेज पर  जीएसटी में राहत मिल सकती है।

 

 

Related posts

झारखंड श्रावणी मेला 2020: हाईकोर्ट के फैसले के बाद टूटी ये सालों पुरानी परंपरा

Rani Naqvi

CM अरविंद केजरीवाल की बढ़ीं मुश्किलें, AAP पर ईडी ने दर्ज किया मनी लॉन्ड्रिंग का केस

piyush shukla

दिल्ली निगम चुनावों में आप की हार पर बोले विश्वास, जनता ने हराया

kumari ashu