featured उत्तराखंड

हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लंबे समय से लगी रोक को हटाया

CHARDHAM YATRA हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लंबे समय से लगी रोक को हटाया

उत्तराखंड चारधाम यात्रा पर लंबे समय से लगी रोक पर गुरुवार को हुई सुनवाई के बाद हाईकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लगी रोक को हटा दिया है। आपको बता दें कि 26 जून को नैनीताल हाईकोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान हाईकोर्ट ने चार धाम की यात्रा पर रोक लगा दी थी। हालांकि, उस दौरान नैनीताल हाईकोर्ट ने तर्क दिया था कि वैश्विक महामारी कोरोना संक्रमण से बचाव संबंधी व्यवस्थाएं मुकम्मल नहीं है। जिसके बाद से ही चारधाम यात्रा पर रोक बरकरार थी।

1540286578 9335 हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लंबे समय से लगी रोक को हटाया

यही नहीं चारधाम यात्रा को संचालित किए जाने को लेकर राज्य सरकार ने हाईकोर्ट के फैसले के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में एसएलपी दायर की थी। लेकिन सुप्रीम कोर्ट में अधिक समय लगने की वजह से राज्य सरकार ने सुप्रीम कोर्ट में दायर एसएलपी को वापस ले लिया था और 10 सितंबर को हाईकोर्ट में अनुरोध पत्र दाखिल किया था। जिस पर हाईकोर्ट ने 16 सितंबर को सुनवाई करने की बात कही थी।

navjivanin हाइकोर्ट ने चारधाम यात्रा पर लंबे समय से लगी रोक को हटाया

लिहाजा 16 सितंबर को हाईकोर्ट में चारधाम यात्रा को लेकर हुई सुनवाई पर हाईकोर्ट ने बड़ा फैसला लेते हुए लंबे समय से चारधाम यात्रा पर लगी रोक को हटा दिया है ऐसे में अब जल्द ही चारधाम की यात्रा शुरू हो सकती है। उच्च न्यायालय ने चारधाम यात्रा पर लगाई गई रोक को कुछ प्रतिबंधों के साथ हटा दिया है । मुख्य न्यायाधीश की खंडपीठ ने केदारनाथ धाम में प्रतिदिन 800 भक्त या यात्रियों, बद्रीनाथ धाम में 1200, गंगोत्री धाम में 600, यमनोत्री धाम में कुल 400 यात्री जाने की अनुमति दी है।

Related posts

सरकार ने ‘व्हाट्सएप, स्काइप’ से वीडियो कॉल करने पर लगाई रोक, DOT करेगा लाइसेंस शर्तों में संशोधन

mahesh yadav

हिन्दू समाज की सेवा करना विहिप का उद्देश्य : पद्मश्री डा. रवीन्द्र नारायण

Shailendra Singh

मिला गया डायनासोर का ‘बच्चा’, चीन में 7 करोड़ साल पुराने अंडे में मौजूद ‘धरती का राजा’

Rahul