featured देश

CM ममता बनर्जी ने की नेताजी के जन्मदिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की अपील

CM Mamta Banarjee CM ममता बनर्जी ने की नेताजी के जन्मदिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की अपील

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से नेताजी की जयंती को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की दोबारा अपील की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा ‘हम फिर से केंद्र सरकार से अपील करते हैं कि नेताजी के जन्मदिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया जाए।

पश्चिम बंगाल: CM ममता बनर्जी ने सुभाष चंद्र बोस को अर्पित की श्रद्धांजलि,  कहा- नेताजी एक सच्चे नायक थे, जो एकता में विश्वास रखते थे | 🗳️ LatestLY ...

नेताजी के जन्मदिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की अपील

नेताजी के नाम से मशहूर महान स्वतंत्रता सेनानी सुभाष चंद्र बोस की आज जयंती है। तुम मुझे खून दो, मैं तुम्हें आजादी दूंगा…’ का नारा देने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस की पूरा देश आज 125वीं जयंती मना रहा है। इस मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से नेताजी की जयंती को राष्ट्रीय अवकाश घोषित करने की दोबारा अपील की है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा ‘हम फिर से केंद्र सरकार से अपील करते हैं कि नेताजी के जन्मदिन को राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया जाए ताकि पूर देश में राष्ट्रीय नेता को श्रद्धांजलि दी जा सके और देशनायक दिवस मनाया जा सके।’

‘राज्य भर में ‘देश नायक दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने रविवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125वीं जयंती के अवसर पर उन्हें श्रद्धांजलि दी और कहा कि यह दिन राज्य भर में ‘देश नायक दिवस’ के रूप में मनाया जाएगा।  ममता बनर्जी ने एक ट्वीट में कहा कि क्रांतिकारी नेता की स्मृति में प्रदेश में जय हिंद विश्वविद्यालय की स्थापना की जाएगी जिसका सारा खर्च राज्य सरकार उठायेगी। देशनायक नेताजी सुभाष चंद्र बोस को उनकी 125वीं जयंती पर श्रद्धांजलि। एक राष्ट्रीय और वैश्विक प्रतीक के तौर पर बंगाल से नेताजी का उदय भारतीय इतिहास में अद्वितीय है।

बोस की जयंती को पराक्रम दिवस  के रूप में मनाने का ऐलान

बता दें कि केंद्र सरकार की ओर से नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती को पराक्रम दिवस  के रूप में मनाने का ऐलान किया है। आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडिया गेट पर नेताजी की होलोग्राम प्रतिमा का अनावरण किया। नेताजी की जयंती के साथ आज से गणतंत्र दिवस समारोह शुरू करने का फैसला लिया गया है। इस दिन को पराक्रम दिवस (वीरता का दिन) के रूप में मनाया जा रहा। इस मौके पर आज प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें संसद भवन के सेंट्रल हॉल में श्रद्धांजलि अर्पित की।

Related posts

महाराष्ट्र के नांदेड़ में गुरुद्वारा लंगर साहिब में 20 लोगों में कोरोना पॉजिटिव पाया गया

Rani Naqvi

मैक्स अस्पताल ने उजाड़ी मां की कोख, अस्पताल पर ताला चाहती है मां

Vijay Shrer

बंगाल चुनाव 2021: कांग्रेस ने जारी की अपने 30 स्टार प्रचारकों की लिस्ट, G-23 के नेताओं को नहीं मिली जगह

Sachin Mishra