लखनऊ स्थित कालाकांकर कॉलोनी में क्यों घर छोड़कर जा रहे लोग, जानिए क्या है पूरा मामला

लखनऊ: लखनऊ में इन दिनों कालाकांकर कॉलोनी चर्चाओं का विषय बनी हुई है। यहां अवैध रूप से लोग लंबे समय से रह रहे हैं। अब विवाद की स्थिति के बाद घरों के बाहर पोस्टर लग गए हैं, जिसमें घर बेचने की बात कही गई है। इसी के तहत शुक्रवार को सभी अधिकारी मौके पर पहुंचे। छानबीन शुरू हुई तो पता चला कि मामला काफी पुराना है।

नाले पर बन गए मकान

दरअसल खबरों के अनुसार इस कॉलोनी में सैकड़ों परिवार रह रहे हैं और जहां नाले पर पूरी तरह से कब्जा कर दिया गया है।  बता दें कि यह कालोनी बीरबल साहनी मार्ग पर स्थित है। यहां भारी संख्या में अतिक्रमण भी हुआ है, जिसको लेकर दो पक्षों में विवाद भी जारी है। इसी मामले पर नगर निगम और पुलिस ने भी हस्तक्षेप किया।

‘मकान बिकाऊ है’ के लगे पोस्टर

दो गुट आपस में भिड़ गए इसके बाद कॉलोनी में ‘मकान बिकाऊ है’ के पोस्टर भी लगा दिए गए हैं। इसी मामले के बाद अब अधिकारी हरकत में आ गए और पूरे मामले की जांच पड़ताल की जा रही है। लोगों का आरोप है कि नाले के ऊपर पूरी तरह से कब्जा कर लिया गया है और अराजकता फैलाई जा रही है। इस मामले में एक सवाल यह भी उठता है कि आखिर पूरे नाले की जमीन पर कैसे अवैध कब्जा कर लिया गया।

दिलचस्प बात यह है कि यह सभी लोग अपना हाउस टैक्स, बिजली और पानी का बिल भी पिछले कई वर्षों से लगातार भर रहे हैं। इनके पास इनका मतदाता पहचान पत्र और आधार कार्ड भी है। अब इसी मामले में विवाद भी शुरु हो गया है, जिससे कई लोग ऐसे हैं, जिनका इलाके में रहना दूभर हो गया है। इसीलिए 51 परिवार ऐसे हैं, जो घर बेचकर बाहर जाने की तैयारी कर रहे हैं। यही समस्या अब प्रशासन के सामने आ गई है, जिसके बाद पूरी जांच पड़ताल पर नगर आयुक्त लग गए हैं।

UP: कोरोना काल में अनाथ हुए बच्चों के लिए सीएम योगी ने उठाया बड़ा कदम, अधिकारियों को तत्काल मदद करने के निर्देश

Previous article

सावधान! पेंशनर्स के अकांउट पर साइबर ठगों की पैनी नज़र

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured