WhatsApp Image 2021 01 29 at 5.28.10 PM किसान आंदोलनः हरियाणा के 17 जिलों में इंटरनेट सेवाओं पर रोक
फाइल फोटो

चंडीगढ़। कृषि कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन को दो महीने से ज्यादा हो गए है। इसके साथ ही गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद किसान आंदोलन में नया मोड़ आने लगा है। एक तरफ खबर आ रही थी कि किसान आंदोलन अब खत्म होने वाला है, लेकिन राकेश टिकैत का वीडियों वायरल होने के बाद रात में किसान भारी मात्रा में गाजिपुर बाॅर्डर पर किसान पहुंच गए। जिसके बाद आज मुजफ्फानगर में किसानों की महापंचायत भी हो रही है। जिसके चलते भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात किया गया है। इसके साथ ही अब हरियाणा से खबर आ रही है कि हरियाणा सरकार ने राज्य के 17 जिलों में इंरटनेट और एसएमएस सर्विस को कल शाम पांच बजे तक सस्पेंड कर दिया है।

इन जिलों में हुई इंटरनेट सेवा बंद-

बता दें कि किसान आंदोलन अब लगातार बढ़ने पर है। गणतंत्र दिवस पर हुई हिंसा के बाद सरकार ने किसान आंदोलन खत्म करने आदेश दिए थे। इसके साथ ही गणतंत्र दिवस में हुई के बाद राकेश टिकैत समेत 37 नेताओं पर पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। इसके साथ ही अब किसान भारी मात्रा में फिर से बाॅर्डर पर इकट्ठा हो रहे हैं। किसानों का कहना है कि जब तक कृषि कानूनों का सरकार द्वारा वापस नहीं लिया जाता है, तब तक हम यहीं डटे रहेंगे। इसके साथ ही अब हरियाणा सरकार ने राज्य के 17 जिलों में इंरटनेट और एसएमएस सर्विस को कल शाम पांच बजे तक सस्पेंड कर दिया है। जिसके चलते सूचना विभाग ने ट्वीट कर कहा कि तुरंत प्रभाव से अंबाला, यमुनानगर, कुरुक्षेत्र, करनाल, कैथल, पानीपत, हिसार, जींद, रोहतक, भिवानी, चरखी दादरी, फतेहाबाद, रेवाड़ी और सिरसा जिलों में वॉयस कॉल को छोड़कर इंटरनेट सेवाओं को 30 जनवरी 2021 शाम 5 बजे तक के लिए बंद करने का निर्णय लिया है। इसके साथ ही सोनीपत, पलवल व झज्जर में पहले ही इंटरनेट सेवाओं पर रोक लगाई गई है।

सीएम ने अधिकारियों के साथ की विकास कार्यों की समीक्षा बैठक, जानें क्या कहा

Previous article

18 फरवरी से शुरू होगा यूपी विधानसभा सत्र, इस दिन पेश होगा राज्य का बजट

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.