2 yoga International Yoga Day: इंटरनेशन योग दिवस कल, 21 जून को इस वजह से मनाते है योग दिवस

International Yoga Day 2021: विश्व योग दिवस हर साल 21 जून को मनाया जाता है। योग के जरिए इंसान शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ्य रहता है। योग तन और मन से जुड़े तमाम तरह के रोग को दूर करता है। यह मानव की हर तरह की शुद्धि का आसान उपकरण है। योग, भारतीय ज्ञान की पांच हजार वर्ष पुरानी विरासत है, जिसके प्रणेता महर्षि पतंजलि को माना जाता है। योग साधना में जीवन शैली का पूर्ण सार समाहित किया गया है। अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के दिन दुनियाभर से सामूहिक योग की शानदार तस्वीरें देखने को मिलती है। हालांकि पिछले एक साल से कोरोना महामारी के चलते ऐसा संभव नहीं हो पाया है।

मानव सभ्यता से योग की हुई शुरुआत

मान्यता के अनुसार मानव सभ्‍यता की शुरुआत से ही योग किया जा रहा है। योग के विज्ञान की उत्‍पत्ति हजारों साल पहले धर्मों या आस्‍था के जन्‍म लेने से भी काफी पहले हो गई थी। योग विद्या के अनुसार शिव को पहले योगी या आदि योगी तथा पहले गुरू या आदि गुरू के रूप में माना जाता है। योग एक संस्कृत शब्द है।

21 जून को क्यो मनाते हैं योग दिवस

आपको बता दें कि 11 दिसंबर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस या विश्व योग दिवस के रूप में मनाए जाने की घोषणा की थी। इसके बाद साल 2015 से इस दिन को दुनियाभर में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर मनाया जाने लगा। 21 जून साल का सबसे लंबा दिन होता है और धरती पर सूर्य सबसे ज्यादा समय तक रहता है। ऐसा माना जाता है कि इस दिन को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के तौर पर मनाने के पीछे ये बड़ा कारण है।

2015 से इंटरनेशन योगी दिवस की शुरुआत

पहली बार 2015 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के योग दिवस मनाने की घोषणा के बाद राजपथ पर पीएम मोदी की अगुवाई में 35 हजार लोगों ने पीएम मोदी के साथ योगा किया था।

Corona की थर्ड वेव में भी जारी रहेगा BJP का प्रचार, बनाया ये प्लान

Previous article

नहीं मिलेगी राहत-बढ़ेगा महंगाई का बोझ, अभी और महंगे होंगे AC-TV, फ्रिज

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured