इंडियन मुजाहिदीन का संदिग्ध आतंकी गिरफ्तार, दिल्ली को दहलाने की थी साजिश

नई दिल्ली। गणतंत्र दिवस के अवसर पर दिल्ली को दहलाने की साजिश को पुलिस ने नाकाम कर दिया है। दिल्ली को दहलाने आए एक संदिग्ध आतंकी को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार आतंकी का नाम अब्दुल सुभान कुरैशी उर्फ तौकीर बताया जा रहा है, जोकि पेशे से इंजीनियर हैं। पुलिस को शक है कि तौकीर इंडियन मुजाहिदीन के लिए काम करता था और साल 2008 में गुजरात में हुए बम धमाकों में उसका हाथ था। मिली जानकारी के मुताबिक वो दिल्ली में एक बड़ी आतंकी साजिश को अंजाम देने की प्लानिंग कर रहा था। अब्दुल ने पकड़े जाने से बचने के लिए दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल के लोगों पर फायरिंग भी की थी, लेकिन आखिर में वो पुलिस के हत्थे चढ़ गया। 

आपको बता दें कि अब्दुल सुभान कुरैशी उर्फ तौकीर को भारत का लादेन भी कहा जाता है। पेशे से इंजिनियर इस आतंकी को बम बनाने में महारत हासिल है। सुरक्षा एजेंसियों को 11 जुलाई 2006 में मुंबई में हुए ट्रेन ब्लास्ट में भी इसकी तलाश थी। इसके अलावा दिल्ली, बेंगलुरु और अहमदाबाद में हुए धमाकों में भी उसका हाथ बताया जाता है। सूत्रों के मुताबिक कि इंडियन मुजाहिदीन के सारे ऑनलाइन काम तौकीर ही करता है। बता दें कि साल 2008 में  गुजरात में हुए बम धमाकों में 56 लोगों की मौत हो गई थी और ये सारे बम धमाके 90 मिनट के अंदर हुए थे।
इन धमाकों की जिम्मेदारी इंडियन मुजाहिदीन ने ही ली थी। सभी धमाकों में कुल मिलाकर 56 लोग मारे गए थे और 200 के करीब जख्मी हो गए थे। बाद में हरकत-उल-जिहाद-अल-इस्लामी ने भी इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। इस मामले में गुजरात पुलिस ने उस वक्त नौ लोगों को गिरफ्तार किया था। उनमें धमाकों का मास्टरमाइंड कहा जाने वाला मुफ्ती अबु बशीर भी शामिल था। उसी बीच बेंगलुरु और झारखंड में भी ब्लास्ट हुए थे। इस आतंकवादी साजिश में अब्दुल सुभान कुरैशी भी शामिल बताया जा रहा है।