जेएनयू 1 जेएनयू  में हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ तेज की कार्रवाई, 9 छात्रों का फोटो सार्वजनिक

नई दिल्‍ली. जेएनयू  में 5 जनवरी को हुई हिंसा के मामले में पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई तेज कर दी है. दिल्‍ली पुलिस ने इस मामले में यूनिवर्सिटी के 9 छात्रों का फोटो सार्वजनिक कर उन्‍हें हिंसा का आरोपी बताया था. अब दिल्‍ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने इन सभी आरोपियों को नोटिस जारी कर पूछताछ के लिए तलब किया है. इन सभी आरोपी छात्रों को सोमवार को कमला मार्केट स्थित क्राइम ब्रांच के SIT दफ्तर में पेश होने को कहा गया है. इन सभी से जेएनयू हिंसा ममाले में यहीं पर पूछताछ की जाएगी. बता दें कि जेएनयू में 5 जनवरी को कुछ नकाबपोशों ने छात्रों पर हमला कर दिया था, जिसमें कई छात्र-छात्राएं घायल हो गए थे. इस घटना से जेएनयू परिसर में अफरातफरी के हालात पैदा हो गए थे.

बता दें कि नौ आरोपी छात्रों में छात्राएं भी शामिल हैं. दिल्‍ली पुलिस ने उन्‍हें भी नोटिस जारी किया है. पुलिस ने छात्राओं से खुद ही पूछताछ का समय और जगह बताने को कहा गया है, ताकि वे बिना किसी दिक्‍कत के समय पर आकर पूछताछ में शामिल हो सकें. इसक अलावा आरोपी छात्रों को कमला नगर स्थित एसआईटी के कार्यालय में पेश होने को कहा गया है. पुलिस ने बताया कि पूछताछ के लिए पेश न होने वाले छात्रों को दोबारा से नोटिस जारी कर तलब किया जाएगा.

साथ ही जेएनयू में हुई हिंसा के खिलाफ देश के कई हिस्‍सों में विरोध-प्रदर्शन हुआ. देश के अन्‍य शैक्षिक संस्‍थानों के छात्र भी इसमें शामिल हुए. राजनीतिक दलों के हस्‍तक्षेप के बाद इस विवाद ने राजनीतिक रूप भी ले लिया है. बता दें कि जेएनयू में वामपंथी छात्र संगठनों और ABVP एक-दूसरे पर हिंसा करने का आरोप लगा रहे हैं. वहीं, दिल्‍ली पुलिस की ओर से जारी फोटो में दोनों पक्षों के कार्यकर्ताओं के नाम शामिल हैं.

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    स्वामी विवेकानंद की जयंती पर पीएम  मोदी ने बंगाल के बेलूर मठ में युवाओं को किया संबोधित, जाने क्या कहा

    Previous article

    CAA व NRC का विरोध करने के लिए देहरादून में बनाए जा रहे संयुक्त मोर्चे के लिए कांग्रेस ने नहीं खोले अपने पत्ते

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured