अब तक कुल 3321 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 6448 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित

अब तक कुल 3321 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 6448 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित

देहरादून। अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने बताया कि मा.न्यायालय के निर्देशों के क्रम में देहरादून शहर में मसूरी-देहरादून विकास प्राधिकरण, नगर निगम देहरादून एवं जिला प्रशासन देहरादून द्वारा जन सामान्य हेतु बनाये गये फुटपाथों, गलियों, सड़कों एवं अन्य स्थलों पर किये गये अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों में ध्वस्तीकरण, चिन्हांकन व सीलिंग का कार्य निरन्तर किया जा रहा है। सोमवार व मंगलवार को इस अभियान के अन्तर्गत 74 अतिक्रमणों के चिन्हीकरण का कार्य सम्पादित किया गया है। इस प्रकार अब तक कुल 3321 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 6448 अतिक्रमणों का चिन्हीकरण व 108 भवनों के सीलिंग का कार्य सम्पादित किया जा चुका है।

 

 

बता दें कि अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने अतिक्रमण हटाओ टास्क फोर्स के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिये है कि अपने से संबंधित कार्यों को समयबद्धता के साथ पूर्ण करें। जिसमें सड़कों का चौड़ीकरण, डामरीकरण, सौंदर्यीकरण आदि कार्य किये जाए। उन्होंने लो.नि.वि. के अधिकारियों को सड़क के समतलीकरण करने व बारिश के दौरान सड़को में हुए गडढ्ढों को प्राथमिकता से भरने के निर्देश दिये, ताकि किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना घटित न हो। उन्होंने बताया कि अतिक्रमण हटाने के कार्य में शासन-प्रशासन को दूनवासियों का पूरा सहयोग मिल रहा है। ओमप्रकाश ने कहा कि अतिक्रमण मुक्त हो जाने के बाद देहरादून शहर एक नये रूप में दिखाई देगा। जिससे देहरादून आने वाले पर्यटकों, श्रद्धालुओं एवं यात्रियों के ऊपर राजधानी की गरिमा के अनुरूप उन्हें एक स्वच्छ शहर का अच्छा संदेश मिलेगा।

वहीं ओमप्रकाश ने बताया कि अनधिकृत निर्माणों एवं अवैध अतिक्रमणों को हटाने का कार्य मा.न्यायालय के आदेशों के क्रम में नियमानुसार सम्पादित किया जा रहा है। शहर में अवैध अतिक्रमण हटाने के अभियान में मा.न्यायालय के दिशा-निर्देशों का शत्-प्रतिशत पालन सुनिश्चित किया जा रहा है। उन्होंने अतिक्रमण हटाओ टास्क फोर्स के अधिकारियों को निर्देश दिये कि मुख्य मार्गों से अतिक्रमण हटाने के कार्य में और अधिक तेजी लाई जाए। उन्होंने कहा कि मुख्य मार्गों सहित नगर निगम की सीमा में आने वाले अवैध अतिक्रमणों को हटाने में किसी भी प्रकार की लापरवाही क्षम्य नही होगी।

साथ ही सचिव एम.डी.डी.ए. पी.सी.दुमका ने बताया कि देहरादून में पिछले 02-03 दिनों से हो रही भारी वर्षा के कारण अवैध अतिक्रमणों को हटाने में कुछ व्यवहारिक कठिनाईयां आई है। जिस कारण अतिक्रमण हटाने का कार्य दु्रत गति से नही हो पाया है। उन्होंने कहा कि बारिश में थोड़ी भी कमी आने पर अतिक्रमण हटाने का कार्य तेज गति से किया जायेगा। सोमवार 06 अगस्त व मंगलवार 07 अगस्त, 2018 को भारी वर्षा के कारण केवल चिन्हीकरण का कार्य सम्पादित किया गया है।