September 22, 2021 8:14 am
featured यूपी

कानपुरः गिरफ्तारी के बाद अचानक खराब हुई SNK पान मसाला के मालिक और डायरेक्टर की तबियत, जानें पूरा मामला

कानपुरः गिरफ्तारी के बाद अचानक खराब हुई SNK पान मसाला के मालिक और डायरेक्टर की तबियत, जानें पूरा मामला

कानपुरः गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस महानिदेशालय (DGGI) की टीम ने बड़ी कार्रवाई करते हुए SNK पान मसाला कंपनी के मालिक नवीन कुरेले और डायरेक्टर अविनाश मोदी को गिरफ्तार कर लिया है। गिरफ्तार की बाद टीम उन्हें सीजेएम कोर्ट में पेश करने के लिए मेरठ ले जा रही थी, इस बीच कंपनी के मालिक और डायरेक्टर की अचानक तबीयत खराब हो गई। जिसके बाद दोनों को उर्सला के कॉर्डियोलॉजी विभाग में भर्ती कराया गया।

बता दें कि सोमवार को SNK ग्रुप पर GST टीम ने छापेमारी की थी। इस दौरान कई शेल कंपनियों का खुलासा हुआ था। साथ ही कुरेले ग्रुप में 400 करोड़ की टैक्स में हेराफेरी सामने आई है।

GST चोरी का लगा आरोप

DGGI की टीम ने SNK पान मसाला के मालिक नवीन कुरेले और निदेशक अविनाश मोदी को टैक्स चोरी मामले में गिरफ्तार किया है। इसमें कई और लोगों की गिरफ्तारी हो सकती है।सोमवार को कानपुर समेत प्रदेश के 15 शहरों में डीजी जीएसटीआई की टीम ने छापे मारे थे। ये अभियान पिछले दिनों दिल्ली की कंपनी फ्लैक्स में हुई छापेमारी के बाद चलाया गया।

कानपुर में गुड्स एंड सर्विस टैक्स इंटेलिजेंस महानिदेशालय की टीम ने पान मसाला कंपनी के मालिक के घर और कार्यालय में 24 घंटे पड़ताल की। - Dainik Bhaskar

एसएनके के मालिक नवीन कुरेले के स्वरूपनगर स्थित आवास, पनकी स्थित फैक्टरी, अविनाश मोदी के काकादेव स्थित आवास में चौबीस घंटे पूछताछ की। बिना बिल के बिक्री के प्रमाण मिलने के बाद मंगलवार देर रात उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

अचानक खराब हुई तबियत

मंगलवार की शाम टीम नवीन और अविनाश को CJM कोर्ट में पेश करने वाली थी। टीम ने रिमांड पर लेकर पूछताछ करने का भी प्लान था। उससे पहले दोनों की सेहत बिगड़ गई। इस पर दोनों को उर्सला अस्पताल ले जाया गया। ब्लड प्रेशर अत्यधिक बढ़ा होने से सांस लेने में परेशानी हो रही थी।

GST टीम ने 24 घंटे तक दस्तावेजों को खंगाला।

डॉक्टरों ने दोनों को कार्डियोलाजी रेफर कर दिया। 29 जुलाई को एक साथ 19 शहरों के 31 परिसरों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की थी। छापों में 400 करोड़ रुपए की कर चोरी के प्रमाण मिले थे। फर्जी कंपनियों के सहारे दिल्ली एनसीआर में बड़े पैमाने पर रियल स्टेट का काम भी शुरू किया था।

Related posts

40 साल बाद पानी से त्रस्त होगा भारत, धीरे-धीरे कम हो रहा जलस्तर

lucknow bureua

संविधान बदलना पड़े तो बदले, भारत बने हिंदू राष्ट्र: तोगड़िया

bharatkhabar

लखनऊः नई जनसंख्या नीति के समर्थन में बरेली की निदा खान ने लिखा सीएम योगी को पत्र

Shailendra Singh