ganga 3 Ganga Dussehra 2021: गंगा दशहरा के दिन करें दान-स्नान, जाने शुभ मूहुर्त और महत्व

Ganga Dussehra 2021: हिंदू धर्म के लिए गंगा दशहरा के विशेष महत्व होता है। इस बार पंचाग के अनुसान गंगा दशहरा 20 जून 2021 को पड़ रहा है। शास्त्रों और पौराणिक धर्मग्रंथों की मान्यताओं के अनुसार ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि पर ऋषि भागीरथी के अथक प्रयासों से मां गंगा का धरती पर अवतरण हुआ था। इसलिए इस दिन को गंगा दशहरा कहा जाता है। मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन स्नान, दान और मां गंगा की आराधना करने से इंसान को पापों से मुक्ति मिल जाती है।

गंगा दशहरा का शुभ मुहूर्त-

दशमी तिथि आरंभ: 19 जून 2021 को शाम 06 बजकर 50 मिनट पर
दशमी तिथि समाप्त: 20 जून 2021 को शाम 04 बजकर 25 मिनट पर

पूजा करने की विधि

मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन सुबह उठकर गंगा जी में स्नान करें। अगर गंगा जी में स्नान नहीं कर सकते हैं तो नहाने वाले पानी में गंगा जल मिलाकर स्नान अवश्य करें। स्नान करने के बाद सूर्य नारायण को गंगा जल मिले जल से अर्घ्य डालें। उसके बाद घर में पूजा स्थल पर जाकर दीप जलाएं। तत्पश्चात सभी देवी- देवताओं का गंगा जल से अभिषेक करें। और गंगा आरती करें। इस दिन व्रत रखना उत्तम फलदायक होता है। भगवान शिव की पूजा करें।

गंगा दशहरा का महत्त्व

मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन जो भी व्यक्ति विधि-विधान से गंगा नदी में या फिर किसी पत्रिव कुंड या नदीं में स्नान कर अपनी श्रद्धा के अनुसार दान करे तो उसे कई पापों से मुक्ति मिलती है। साथ ही कई महायज्ञों के समान पुण्य भी प्राप्त होता है। धार्मिक मान्यता है कि गंगा दशहरा के दिन मां गंगा की पूजा – अर्चना से मृत्यु के बाद मोक्ष की प्राप्ति होती है।

प्रयागराज में आज से 12 घंटे खुलेगा शहीद चंद्रशेखर आजाद पार्क

Previous article

यूपी में मानसून की दस्तक, पानी-पानी हुआ लखनऊ

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in धर्म