फतेहपुर में ट्रकों से अवैध वसूली, दोषी पुलिसकर्मियों पर चला कप्‍तान का चाबुक  

फतेहपुर: उत्‍तर प्रदेश के फतेहपुर जिले में खुलेआम अवैध वसूली का खेल खेला जा रहा है। ताजा मामला ललौली थाना क्षेत्र में अवैध मौरंग से लेकर सड़कों पर दौड़ रहे ट्रकों से अवैध वसूली का सामने आया है।

जिले में अवैध वसूली के मामले सामने आने पर मंगलवार को पुलिस अधीक्षक सतपाल आंतिल ने बड़ी कार्रवाई की है। एसपी ने ललौली थाना क्षेत्र में पांच कांस्टेबल को निलंबित करते हुए चौकी इंचार्ज को लाइन हाजिर कर दिया। इतना ही नहीं इंस्पेक्टर के खिलाफ भी जांच के आदेश दिए गए हैं।

ट्रक चालकों से अवैध वसूली

बीते रविवार को ललौली चौराहे पर रात के समय पिकेट ड्यूटी में आरक्षी बृजेश कुमार और आशुतोष कुमार तैनात थे। ये दोनों यहां से गुजरने वाले ट्रकों को रोककर जांच के नाम पर ट्रक चालकों से अवैध वसूली करने लगे, जो पैसा न देता उसके खिलाफ कार्यवाई करने की धमकी देते।

मजबूरी में ट्रक चालक कांस्टेबल को वसूली की रकम देकर आगे जा रहे थे। मामले की जानकारी होने पर एसपी सतपाल आंतिल ने तत्काल कार्रवाई करते हुए दोनों कांस्टेबल को निलंबित कर दिया। साथ ही विधिक कार्यवाई के आदेश भी दिए हैं।

जांच-ओवरलोडिंग के नाम पर वसूली

ललौली पुलिस पहले जांच और ओवरलोडिंग के नाम पर मौरंग से भरे ट्रकों को रोकती थी। फिर उन्हें छोड़ने के नाम पर चौकी से लेकर थाने तक अवैध वसूली का खुला खेल होता था। इस मामले में मुख्य आरक्षी दयाराम निषाद, आरक्षी हरिश्चन्द्र यादव और कृष्णकांत यादव की भूमिका संदिग्ध पायी गयी।

ऐसे में पुलिस कप्तान ने चाबुक चलाते हुए इन सभी को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया। साथ ही चौकी प्रभारी दतौली मुकेश कुमार सिंह को लाइन हाजिर किया गया है। इतना ही नही इस वसूली के खेल में ललौली थाना प्रभारी इंस्पेक्टर संदीप तिवारी के खिलाफ पुलिस उपाधीक्षक से प्रारंभिक जांच के आदेश दिए गए हैं।

ट्रकों से अवैध वसूली की शिकायत मिलने पर ललौली थाने के पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई हुई है। इसमें हेड कांस्टेबल से लेकर कांस्टेबल, चौकी इंचार्ज तक शामिल हैं। मामले पर प्रभारी निरीक्षक को जांच के आदेश भी दिए गए हैं। दोषियों को किसी भी हालत में छोड़ा नहीं जाएगा।”

सतपाल आंतिल, पुलिस अधीक्षक, फतेहपुर

UP में लगातार गिर रहा कोरोना ग्राफ, 24 घंटे में मिले 8737 नए मरीज

Previous article

उत्तराखंड में कोरोना को हराएगा ‘AAP का डॉक्टर’

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured