विद्युत कर्मचारी मोर्चा संगठन दो दिवसीय सम्मलेन में करेगा समस्याओं की समीक्षा 

लखनऊ: विद्युत कर्मचारी मोर्चा संगठन का 42वां वार्षिक सम्मलेन सात और आठ अप्रैल को लखनऊ के चारबाग स्थित रविंद्रालय में होगा। इसमें बिजली चोरी, अनियमितताओं, निजीकरण और कर्मचारियों की समस्याओं की समीक्षा की जाएगी।

इसकी जानकारी सोमवार को मोर्चा के पदाधिकारियों ने प्रेस कांफ्रेंस करके दी। इस मौके पर संगठन के कार्यकारी अध्यक्ष नवीन गौतम, प्रा. मुख्य महामंत्री गोपाल कृष्ण गौतम, प्रमुख महामंत्री ई. मोहन जी श्रीवास्तव, लेखा शाखा अध्यक्ष जेपी यादव आदि मौजूद रहे।

केंद्रीय अध्यक्ष चंद्र प्रकाश बब्बू ने कहा कि, प्रबंधन में बैठे हुए कुछ लोग सिर्फ अराजकता फैलाने का काम करते हैं। जान-बूझकर कर्मचारियों को परेशान करने के लिए वेतन विसंगतियां की जाती हैं। कुछ खास लोगों के लिए विशेष सुविधा दी जाती है और आम कर्मचारियों के अधिकारों में कटौती की जा रही है। यह बेहद निराशाजनक है और इसे किसी भी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

संगठन की प्रमुख मांगें

प्रमुख महामंत्री मोहन जी श्रीवास्तव ने बताया कि, हमारे संगठन की प्रमुख मांगों में दूर-दराज क्षेत्रों में गलत तरीके से नियुक्त और स्थानांतरित किए गए नॉन कॉमन कैडर के कर्मचारियों को आमेलन का लाभ दिया जाना है। इसके अलावा छठें वेतन आयोग की रिपोर्ट में पेज नंबर दो पर की गई टिप्पणी को हटाना भी हमारी प्रमुख मांगों में से एक है, क्योंकि इसके कारण कर्मचारियों को उच्च वेतनमान नहीं मिल पा रहा है।

मोहन जी श्रीवास्तव ने कहा कि, हमारी मांग ये भी है कि तृतीय श्रेणी के प्रथम, द्वितीय और तृतीय वेतनमान क्रमश: 4200, 5400 और 6600 रुपए किया जाए। गैर तकनीकी कर्मचारियों को भी अन्य की भांति विशेष वेतन वृद्धि दी जाए, पुरानी पेंशन बहाल किए जाने आदि संबंधित कई मांगें हैं।

सम्मेलन में ये अतिथि होंगे शामिल

42वें वार्षिक अधिवेशन का उद्घाटन बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह करेंगे। इस अवसर पर कैबिनेट मंत्री श्रीकांत शर्मा और ब्रजेश पाठक भी रहेंगे। इसके अलावा पावर कॉर्पोरेशन के प्रबंध निदेशक पंकज कुमार, उत्पादन निगम के प्रबंध निदेशक सेंथिल पांडियन, कार्मिक प्रबंधन एवं प्रशासन के निदेशक ई. ए के पुरवार, मध्यांचल विद्युत वितरण निगम के प्रबंध निदेशक एस पी गंगवार, साउथ एशिया पीएसआइ के सबरीजनल सेक्रेटरी आर कन्नन और एनएचपीसी के निदेशक भगवत प्रसाद मकवाना शामिल होंगे।

VIDEO: उत्तराखंड की आग बुझाने में लगे हेलीकॉप्टर, सीएम की पल-पल पर नजर

Previous article

कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़ो में उछाल खतरे की घण्टी

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured