Untitled 3 कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़ो में उछाल खतरे की घण्टी
कोरोना संक्रमित मरीजों का आंकड़ा यूं तो प्रदेश में तेजी से बढ़ रहा है।  इसके साथ-साथ कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत की संख्या भी तेजी से बढ़ती जा रही है। इसको लेकर के स्वास्थ विभाग तो चिंतित है। वहीं इस पर विशेषज्ञ भी काफी चिंतित नजर आ रहे हैं। उनका मानना है कि संक्रमित मरीजों की मौत के आंकड़ों में उछाल खतरे की घंटी है।
विशेषज्ञ बोले ,हालात नहीं संभले तो भयावह होंगे परिणाम
कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग चिंतित है। तो वहीं बढ़ती हुई कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या ने स्वास्थ विभाग के लिए खतरे की घंटी बजा दी है। कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में बढ़ोतरी के साथ-साथ कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है। इस पर विशेषज्ञों ने कहा है कि यदि आने वाले दिनों में हालात नहीं सुधरे तो स्थिति काफी भयावह हो सकती है।
इस पर जब हमने केजीएमयू के संक्रमण विशेषज्ञ डॉक्टर डी हिमांशु से बातचीत की तो उन्होंने बताया कि कोरोना संक्रमित मरीजों के आंकड़ों में उछाल तो एक बार समझा जा सकता है,लेकिन इस बार कोरोना संक्रमित मरीजों की मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ रहा है। यह चिंता का विषय है। इसके साथ-साथ केजीएमयू में आने वाले मरीज तेजी से गंभीर स्थिति में पहुंच रहे हैं। इससे साफ होता है कि आने वाले दिनों में यदि स्थिति न नहीं संभल पाए तो तो भयावह तस्वीर सामने देखने को मिल सकती है।
चिकित्सक बोले स्थिति गंभीर नहीं चेते तो हालात होंगे बदतर
कोरोना संक्रमित मरीजों की मौतों के आंकड़ों में हो रही बढ़ोतरी से हर तरफ भय का माहौल है। इसी पर जब हमने लिए लोहिया संस्थान के संक्रामक रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पीके दास से बातचीत करी तो उन्होंने बताया कि बीते दिनों जब लोहिया संस्थान में कोरोना संक्रमित के इलाज के लिए वार्ड बनाया गया था। तो यहां पर आने वाले मरीज इतने गंभीर नहीं थे।
लेकिन इस बार कोरोना संक्रमित जैसे ही आ रहे हैं उनकी हालत 2 से 3 दिन में गंभीर हो जा रही हैं। इसके साथ-साथ अभी तक लोहिया संस्थान में 1 हफ्ते के भीतर लगभग 8 कोरोना संक्रमित की मौत हो चुकी है  यह बीते कई महीनों के रिकॉर्ड से काफी अधिक है। यदि आने वाले दिनों में हमने कोरोनावायरस से बचाव को लेकर के किए जाने वाले प्रयासों को बेहतर नहीं किया तो हालात बद से बदतर होंगे।

विद्युत कर्मचारी मोर्चा संगठन दो दिवसीय सम्मलेन में करेगा समस्याओं की समीक्षा

Previous article

प्रयागराज में PDA की बड़ी कार्रवाई, सरकारी जमीन पर बने 100 से ज्‍यादा घर किए जमींदोज

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured