डॉक्टर फारूक सत्तार ने एमक्यूएम-पी की समन्वय समिति से दिया इस्तीफा

नई दिल्ली: मुत्ताहिदा कौमी मूवमेंट पाकिस्तान के संस्थापक सदस्यों में शामिल डॉक्टर फारूक सत्तार ने पार्टी की समन्वय समिति से इस्तीफा दे दिया है। सूत्रों का कहना है कि सत्तार आगामी उपचुनाव में प्रधानमंत्री इमरान खान की पार्टी इमरान पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ की टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं। एमक्यूएम-पी से सत्तार के इस्तीफे से कुछ ही दिन पहले सूचना मिली थी कि पीटीआई ने उन्हें एनए-247 पर होने वाले उपचुनाव की टिकट देने की पेशकश की है। आरिफ अल्वी के पाकिस्तान का राष्ट्रपति चुने जाने के कारण यह सीट रिक्त हुई है।

 

 

 

ये भी पढें:

उत्तराखंडः 4730 अवैध अतिक्रमणों का ध्वस्तीकरण, 8518 का चिन्हीकरण व 136 की सीलिंग हुई
उत्तराखंडः त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने हरिद्वार गणेश महोत्सव में सूबे की खुशहाली की कामना की

 

गौरतलब है कि 25 जुलाई को हुए आम चुनाव में सत्तार को इसी सीट से अल्वी के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। सूत्रों का कहना है कि पिछले साल से ही सत्तार एमक्यूएम-पी की समन्वय समिति के अन्य सदस्यों के साथ मतभेदों में उलझे हुए थे। पार्टी संस्थापक अल्ताफ हुसैन पर प्रतिबंध लगने और लंदन में उनके निर्वासन के बाद से समिति ही पार्टी का कामकाज देखती है। सत्तार ने कहा था कि पीटीआई नेताओं ने उनसे संपर्क कर पार्टी में शामिल होने की पेशकश की है। उन्होंने कहा, ‘‘वह चाहते हैं कि मैं अल्वी की सीट से चुनाव लड़ूं। मैं करीबी सहयोगियों से सलाह मशविरा कर रहा हूं।’’

ये भी पढें:

 

उत्तराखंडः जिला चिकित्सालय में वरिष्ठ फिजीशियन की नियुक्ति पर मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया
उत्तराखंडःसंस्कृत शिक्षा मंत्री ने सचिव संघ की नवीन कार्यकारिणी के पदाधिकारियों को शपथ ग्रहण कराई

 

By: Ritu Raj