October 24, 2021 11:01 am
featured धर्म

Sankashti Chaturthi 2021 : आज है विघ्नराज संकष्टी चतुर्थी, जानिए कैसे करनी है भगवान गणेश की पूजा और किस मंत्र से जीवन में आयेगी खुशहाली

1567071946 ganesh ji Sankashti Chaturthi 2021 : आज है विघ्नराज संकष्टी चतुर्थी, जानिए कैसे करनी है भगवान गणेश की पूजा और किस मंत्र से जीवन में आयेगी खुशहाली

अश्विन महीने के कृष्ण पक्ष की चतुर्थी तिथि को विघ्नराज संकष्टी चतुर्थी कहा है। बता दे कि इस दिन विघ्नहर्ता भगवान गणेश की पूजा की जाती है। विघ्नराज संकष्टी चतुर्थी के दिन भगवान गणेश का व्रत रखने और पूजा की जाती है।  कहा जाता है कि इस व्रक को करने से जीवन के सभी सकंट मिट जाते हैं। पंचांग के मुताबिक विघ्नराज संकष्टी चतुर्थी का व्रत 24 सितंबर को किया जायेगा।

ganesh 1024x683 1 Sankashti Chaturthi 2021 : आज है विघ्नराज संकष्टी चतुर्थी, जानिए कैसे करनी है भगवान गणेश की पूजा और किस मंत्र से जीवन में आयेगी खुशहाली

चलिये जान लेते हैं इस व्रत के बारे में भगवान गणेश को ऋद्धि – सिद्धि के दाता कहामाना जाता है। संकष्टी चतुर्थी के दिन सुबह जल्दी नहाकर भगवान गणेश का व्रत रखना चाहिए। आपको बता दें कि भगवान गणेश का पूजा चंद्रोदय के पहले करना काफी शुभ माना जाता है।

पूजा के लिये चौकी पर लाल या पीले रंग का कपड़ा बिछा कर गणेश जी की प्रतिमा को स्थापित करें। उसके बाद सिंदूर से तिलक कर गणेश जी को जल, चावल,धूप, दीप, नैवेद्य अर्पित करें।

साथ ही भगवान गणेश को पूजन में दूर्वा घास जरूर चढ़ायें। भगवान गणेश की पूजा में  लाल, पीले फूल और मोदक या  फिर लड्डू का भोग लगा सकते हैं।

इसके बाद आपको भगवान गणेश की स्तुतियों का भी पाठ करना चाहिये,  भगवान गणेश की आरती करने के बाद पूजा पूरी मानी जाती है।

बता दें कि  संकष्टी चतुर्थी का व्रत चांद के दर्शन करने के बाद ही खोला जाता है। संकष्टी चतुर्थी के दिन ऊँ हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा –इस मंत्र का अगर जाप करते हैं तो आपके जीवन में खुशहाली आती है। रोगों से छुटकारा मिलता है।

Related posts

…तो ये हुए राज्यसभा के लिए निर्विरोध निर्वाचित

bharatkhabar

जल्द भारत से उड़ान भरेगी वियतनाम की विवादित ‘बिकनी एयरलाइन’

rituraj

वामन का जन्म उत्सव : विश्व में वामन भगवान की एक मात्र मूर्ति, आज फिर जागृत होगी सदियों पुरानी परंपरा

Rahul