pgi पीजीआई में फिर से देखे जाएंगे रोजाना 50 मरीज
लखनऊ। कोरोना के बढ़ते संक्रमण से निपटने के लिए संजय गांधी स्नातकोत्तर आयुर्विज्ञान संस्थान की ओपीडी (बाह्य रोगी विभाग) में पुनः प्रतिबंधित सेवाये चलाने का निर्णय लिया गया है। नयी व्‍यवस्‍था में ओपीडी में प्रतिदिन 20 नये और 30 पुराने रोगियों को ही देखा जायेगा, इसके लिए नम्‍बर ईओपीडी पर प्राप्‍त होगा। नयी व्‍यवस्‍था होली के बाद 30 मार्च से नयी व्‍यवस्‍था लागू की जायेगी।
संस्‍थान की ओर से जारी सूचना के अनुसार कोविड के पुन: बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर संक्रमण को रोकने के दृष्टिकोण से सुरक्षा उपाय अपनाये जा रहे हैं। अब ओपीडी में दिखाने आने वाले रोगियों व उनके परिजनों को सुरक्षा के दृष्टिकोण से बनाये गये नये नियमों का पालन करना अनिवार्य होगा।
ओपीडी में दिखाने के लिए इन नम्‍बरों पर करना होगा फोन किये गये बदलाव
1. बाह्य रोगी विभाग में परामर्श के लिए आने वाले रोगी और उसके एक परिजन की कोविड (आर टी पी सी आर) रिपोर्ट  नेगेटिव होनी चाहिए।
2. ओ0 पी0 डी0 में प्रति विभाग 20 नए रोगी और 30 पुराने मरीज देखे जाएंगे।
3. रोगियों के संपर्क  में आने वाले  स्वास्थ्य कर्मियों को सामाजिक दूरी बनाए रखना, मास्क का प्रयोग और नियमित हाथ धोते रहना जैसे प्रोटोकॉल का पालन अनिवार्य होगा।
4. वार्ड में पूर्व की तरह रोगी की भर्ती से पूर्व रोगी और एक परिजन का कोविड 19 आर टी पी सी आर परीक्षण अनिवार्य है।
5. ओ0 पी0 डी0, लैब और वार्ड में रोगी के साथ एक ही परिजन को प्रवेश की अनुमति होगी।
6. पूर्व की भांति नए और पुराने रोगियों के लिए ई ओपीडी द्वारा चिकित्सकीय परामर्श को प्राथमिकता दी जाएगी।
ओपीडी में रोगियों को दिखाने के लिए आवश्यक दिशानिर्देश
ई0ओ0 पी0 डी0 के द्वारा बातचीत करके ओपीडी में दिखाने की तिथि प्राप्त करें । यह व्यवस्था नए और पुराने दोनों ही मरीजों के लिए है।
1.  ई0 ओ0 पी0 डी0 के फोन नंबर संस्थान की वेबसाइट  www.sgpgi.ac.in पर उपलब्ध है।
2. रोगी अपना ऑनलाइन पंजीकरण और भुगतान करें।
3. निर्धारित दिनांक पर नवीन ओ0 पी0 डी0 ब्लाक के प्रवेश द्वार पर उपस्थित सिक्योरिटी गार्ड को अपनी और परिजन की कोविड नेगेटिव रिपोर्ट चेक कराएं।
4. ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन और ऑनलाइन भुगतान  की रसीद दिखा कर ओपीडी में प्रवेश करें ।
5. ओपीडी में प्रवेश कर रजिस्ट्रेशन काउंटर पर सीआर  नंबर प्राप्त करें।
8. इसके पश्चात ही अपनी ओ पी डी  में प्रवेश करें।

पंचायत चुनाव: चुनावी खर्च ना देने वालों की होगी जमानत ज़ब्त

Previous article

हरीश रावत की बिगड़ी तबीयत, सीएम तीरथ ने की अच्छे स्वास्थ्य की प्रार्थना

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in यूपी