UP में क्‍यों नहीं लगा संपूर्ण लॉकडाउन? सीएम योगी ने दिया जवाब

सहारनपुर: उत्‍तर प्रदेश में कोरोना से निपटने के लिए मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ लगातार मोर्चा संभाले हुए हैं। वह निरंतर जिलों के दौरे पर हैं। सोमवार को मुजफ्फरनगर में निरीक्षण करने के बाद सीएम सहारनपुर पहुंचे।

हर शिकायत पर तत्‍काल करें कार्रवाई: सीएम  

सीएम योगी ने जिले में पहुंचने पर कोविड कमांड एंड कंट्रोल सेंटर का निरीक्षण किया। इस दौरान कमिश्नर, जिलाधिकारी और वरिष्‍ठ पुलिस अधीक्षक को निर्देश दिया कि कोविड सेंटर में आने वाली हर शिकायत व परेशानी पर तत्काल प्रभाव से कार्रवाई होनी चाहिए।

कोरोना केस पर बोले सीएम योगी  

सहारनपुर में मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने पत्रकारों से बातचीत की। इस दौरान उन्‍होंने कहा कि, प्रदेश में जब कोविड-19 पॉजिटिविटी रेट ज्यादा था, तब रिकवरी रेट भी कम था, इसलिए प्रदेश में सक्रिय मामले बढ़े। उन्‍होंने कहा कि, प्रदेश में बीते 16 दिनों के भीतर कोरोना के 1.61 लाख मामले कम हुए हैं।

सूबे के मुखिया ने कहा कि, ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 की रोकथाम के लिए 5 मई से ही घर-घर निगरानी समितियों द्वारा स्क्रीनिंग का काम चल रहा है। इसमें लक्षणयुक्त व संदिग्ध लोगों को मेडिकल किट बांटी जा रही है।

WHO और नीति आयोग ने की सराहना

सीएम योगी ने कहा कि, विश्‍व स्‍वास्‍थ्‍य संगठन (WHO) और नीति आयोग ने भी कोरोना रोकथाम के उत्तर प्रदेश मॉडल की सराहना की है। साथ ही, अन्य राज्यों को भी उत्तर प्रदेश की तरह कार्ययोजना बनाकर काम करने के लिए कहा है।

इसलिए नहीं लगाया संपूर्ण लॉकडाउन…

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि, प्रदेश में संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए हमने वृहद अभियान को आगे बढ़ाया है। इसके तहत हमने आंशिक कोरोना कर्फ्यू लागू किया है। यह संपूर्ण लॉकडाउन नहीं है, बल्कि इसमें आवश्‍यक सेवाएं जारी हैं। गरीब-मजदूरों को दिक्‍कत न हो, इसके लिए सब्जी-फल मंडी, गेहूं क्रय केंद्र व उद्योग पूरी तरह से संचालित हैं।

सीएम योगी ने कहा कि, आंशिक कोरोना कर्फ्यू में हमने हर जनपद में कम्युनिटी किचन शुरू करने के निर्देश दिए हैं। अधिकांश जनपदों ने इस सेवा को शुरू भी कर दिया है। जहां हर जरूरतमंद के लिए भोजन की सुविधा उपलब्ध है।

तीन महीने मिलेगा नि:शुल्‍क राशन

मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने कहा कि, दिहाड़ी मजदूर, स्ट्रीट वेंडर व अन्य गरीबों की आजीविका प्रभावित न हो, इसके लिए यूपी सरकार ने इन्हें जून, जुलाई व अगस्त महीने में नि:शुल्क खाद्यान्न उपलब्ध कराने की स्वीकृति दी है। साथ ही 1,000 रुपए के भत्ते की भी व्यवस्था की गई है।

सीएम योगी ने कहा कि, कोरोना की थर्ड वेव की आशंका को लेकर यूपी सरकार ने अभी से तैयारियां प्रारम्भ कर दी हैं। बच्चों में संक्रमण के खतरे को देखते हुए हर जिले में पीडियाट्रिक ICU निर्माण की कार्यवाही शुरू कर दी गई है। मेडिकल कॉलेज में इसके लिए 100-100 बेड्स तैयार हो रहे हैं।

ब्‍लैक फंगस के लिए एडवाइजरी

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि, ‘ब्लैक फंगस’ बीमारी की नई चुनौती से निपटने के लिए यूपी सरकार ने एक एडवाइजरी पहले से जारी कर दी है। इस बीमारी के मरीजों के उपचार के लिए सरकार पूरी व्यवस्था कराएगी। इसकी दवा के लिए भी सारे प्रयास प्रारम्भ कर दिए गए हैं।

मैक्सिको की एंड्रिया बनीं मिस यूनिवर्स, पेशे से हैं इंजीनियर

Previous article

DM नितिन सिंह भदौरिया ने की वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, अधिकारियों को दिए निर्देश

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.