Breaking News featured देश बिहार राज्य

CM आवास में मनाया जा रहा छट महापर्व, सीएम नीतीश ने डूबते सूर्य को किया अर्घ्य अर्पित

छट महापर्व

छट महापर्व के अवसर पर आज अस्ताचलगामी (डूबते) सूर्य को अर्घ्य दिया गया. अब कल सुबह उगते सूर्य को अर्घ्य देने पर आस्था के इस महापर्व का समापन होगा. चार दिवसीय छठ पर्व की शुरुआत बुधवार को हुई थी. छठ पर्व विशेष रूप से बिहार और पूर्वी उत्तर प्रदेश में मनाया जाता हैं.

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोक आस्था का महापर्व छठ के अवसर पर अपने आवास पटना में 1 अणे मार्ग में अस्ताचलगामी भगवान भास्कर को अर्घ्य अर्पित किया तथा ईश्वर से राज्य एवं देशवासियों की सुख, शांति एवं समृद्धि के लिये प्रार्थना की.

पीएम मोदी ने भी दी लोगों को बधाई

इससे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को छठ पूजा के अवसर पर लोगों को बधाई दी और सभी के लिए सुख और समृद्धि की कामना की. पीएम मोदी ने एक ट्वीट में कहा, “सूर्य की आराधना के महापर्व छठ की सभी देशवासियों को मंगलकामनाएं. छठी मइया सभी के जीवन में सुख-समृद्धि का संचार करें.”

किस वक्त दिया जाएगा दूसरा और आखिरी अर्घ्य

बता दें, हर साल दीवाली के छठे दिन यानी कार्तिक शुक्ल की षष्ठी को छठ पर्व मनाया जाता है. छठी मइया की पूजा की शुरुआत चतुर्थी को नहाए-खाय से होती है. इसके अगले दिन खरना या लोहंडा (इसमें प्रसाद में गन्ने के रस से बनी खीर दी जाती है). षष्ठी (20 नवंबर) को शाम और सप्तमी (21 नवंबर) सुबह को सूर्य देव को अर्घ्य देकर छठ पूजा की समाप्ति की जाती है. इस बार छठ पूजा 18 से 21 नवंबर तक है. यहां जानिए 21 नवंबर को दूसरा और आखिरी अर्घ्य किस समय दिया जाएगा.

छठ की छटा…अंतिम दिन दिया गया उगते सूर्य को अर्घ्य

Related posts

पर्यटन व्यवसायियों के चेहरों पर लौटी रौनक, लंबे समय बाद काफी संख्या में पहुंचे सैलानी

Neetu Rajbhar

पीएम मोदी की पहल पर आमिर का ठप्पा, कहा नोटबंदी से होगा फायदा

Anuradha Singh

शीला के दिए ‘करो या मरो’ नारे पर सपा भड़की

bharatkhabar