January 28, 2023 2:37 am
Breaking News दुनिया

श्रीलंका का सिगरिया रॉक, जानें कैसे बना यह चट्टान, क्या है इसके पीछे की कहानी

cigariya rock lion rock srilanka श्रीलंका का सिगरिया रॉक, जानें कैसे बना यह चट्टान, क्या है इसके पीछे की कहानी

एजेंसी, नोएडा। भारत का पड़ोसी यानी श्रीलंका में अनेक दर्शनीय स्थल मौजूद हैं जिसमें से एक है सिगरिया रॉक। कहते हैं कि श्रीलंका सबसे अधिक देखे जाने वाले इस रॉक का पांचवी सदी में बनाया गया था और लोग आठवां अजूबा मानते हैं।
प्राकृतिक नजारें कहते हैं कि प्रकृति से मनुष्य के बीच कितने नजदीक रिश्ते हैं। ऐतिहासिक और पुरातात्विक महत्व के कारण इसे देखने के लिए दुनियाभर से पर्यटक यहां आते हैं। तीसरी शताब्दी से यह जगह मठ के लिए जानी जाती रही। यह चट्टानी पठार ज्वालामुखी से निकले लावा से बना है। यहां सीढ़ीदार बगीचे, झीलें और तालाब भी हैं। यहां के महल और किले के परिसर को प्राचीन शहरी नियोजन के बेहतरीन उदाहरणों में से एक माना जाता है।
कहते हैं कि राजा कश्यप ने 5वीं शताब्दी में यहां रॉयल रेसीडेंस बनने का निर्णय लिया था, लेकिन राजा की मृत्यु के बाद यह जगह फिर बौद्ध मठ के रूप में 14वीं शताब्दी तक ख्याति प्राप्त करती रही। इस चट्टान को इस तरह डिजाइन किया गया कि यह स्टोन लॉयन की तरह दिखाई देती है। इसलिए इसे सिगरिया कहते हैं, जिसका अर्थ होता है लॉयन रॉक। हालांकि लॉयननुमा चट्टान का निचला हिस्सा यानी पैर वैसे के वैसे ही हैं, लेकिन ऊपरी संरचना क्षतिग्रस्त कर दी गई थी। इसका प्रवेशद्वार चट्टान के उत्तरी हिस्से से है।
यहां की इमारतों और उद्यानों से पता चलता है कि रचनाकारों ने रचनात्मक तकनीकी कौशल प्रयोग के साथ इसका निर्माण किया होगा। शिलालेख बताते हैं कि सिगरिया एक हजार साल पहले भी पर्यटन स्थल था।
सिगरिया की पश्चिमी दीवार भित्तिचित्रों से ढकी थी, जो कश्यप के शासनकाल के दौरान बनी थी। इनमें से 18 भित्ति चित्र आज तक देखे जा सकते हैं। इन चित्रों में नारी सौंदर्य से जुड़े विषय हैं। सिगरिया की सबसे खासियत इसकी मिरर वॉल है। प्राचीन समय में इसकी ऐसी देखभाल की जाती थी कि राजा इसमें अपना प्रतिबिंब देख सकते थे। मिरर वॉल पर सिगिरिया में आने लोगों के लिए लिखे गए शिलालेखों और कविताओं के साथ चित्रित किया गया है। सबसे प्राचीन शिलालेख 8वीं शताब्दी के हैं।

Related posts

Lucknow: सीएम योगी का संकल्प, एक भी बच्चा नहीं रहेगा निराश्रित

Aditya Mishra

राहुल गांधी ने यशवंत सिन्हा के लेख पर मोदी-जेटली का उड़ाया मजाक

Pradeep sharma

लखीमपुर खीरी के जंगलों में हनीप्रीत के लिए सर्च ऑपरेशन

Pradeep sharma