UP: हाथरस में बेटी से छेड़छाड़ के विवाद में पिता पर बरसाईं तोबड़तोड़ गोलियां, मौत

हाथरस: उत्‍तर प्रदेश के हाथरस जिले में कानून व्‍यवस्‍था की धज्जियां उड़ाते हुए एक पिता को दिनदहाड़े गोली मार दी गई। इस वारदात को अंजाम सिर्फ इसलिए दिया गया क्‍योंकि उसने बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत की थी।

यह भी पढ़ें: कोरोना से एक और राजनेता की मौत, खंडवा से बीजेपी सांसद नंद कुमार चौहान का निधन

जिले के सासनी क्षेत्र के गांव नौजरपुर में बेटी से छेड़छाड़ की शिकायत करने वाले पिता पर केस वापस लेने का दबाव बनाया जा रहा था, लेकिन ऐसा न करने पर आरोपियों ने उसकी गोली मारकर हत्‍या कर दी। मृतक की बेटी ने छह लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया, जिनमें से दो आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

 

 

मुख्‍यमंत्री योगी ने दिए सख्‍त निर्देश

घटना का संज्ञान लेते हुए मुख्‍मयंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने निर्देश देते हुए कहा कि वारदात में शामिल सभी आरोपियों के खिलाफ एनएसए (राष्ट्रीय सुरक्षा कानून) लगाने के भी निर्देश दिए हैं।

 

 

खेत में आलू की खोदाई के दौरान गोलियों से भूना

ग्राम नौजरपुर में सोमवार शाम एक खेत में आलू की खोदाई कर रहे किसान अमरीश शर्मा (52 वर्ष) को ताबड़तोड़ फायरिंग करके मौत के घाट उतार दिया गया। जानकारी के मुताबिक, कुछ मजदूर खेत में आलू की बिनाई कर रहे थे और उसी समय छह आरोपित खेत पर हथियारों से लैस होकर पहुंचे। इसके बाद खेत में ही छेड़छाड़ के मुकदमे में समझौते के लिए धमकी दी और नहीं मानने पर युवती के पिता पर फायरिंग कर दी। कई राउंड फायरिंग में अमरीश शर्मा घायल होकर वहीं गिर पड़े और आरोपित कार में बैठकर फरार हो गए।

इस घटना की सूचना पर पुलिस मौके पर पहुंची और अमरीश को जिला अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्‍टर्स ने उसे मृत घोषित कर दिया। इसके बाद सीओ सिटी रुचि गुप्ता, इंस्पेक्टर गौरव सक्सेना मौके पर पहुंचे। मृतक अमरीश की बेटी ने गौरव शर्मा मूल निवासी गांव सोंगरा, थाना जवां (अलीगढ़) सहित छह लोगों को नामजद करते हुए केस दर्ज कराया है।

क्‍या है छेड़छाड़ का मामला?

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, ढाई साल पहले मृतक के परिवार की एक युवती से आरोपित गौरव शर्मा की शादी तय हुई थी, लेकिन बाद में किसी बात को लेकर विवाद हो गया। इस मामले में गौरव के खिलाफ साल 2018 में युवती की ओर से छेड़छाड़ सहित अन्य धाराओं में केस दर्ज कराया गया था, जिसमें गौरव 15 दिन के लिए जेल गया था। इसके बाद वह जमानत पर जेल से बाहर आया था।

फिर कैसे हुआ विवाद?

बताया जा रहा है कि सोमवार को गौरव पत्‍नी को लेकर अपनी मौसी के घर आया था। सुबह उसकी मौसी व पत्‍नी मंदिर गई हुई थी, जहां अमरीश के परिवार की युवती भी आई थी। इस दौरान दोनों पक्षों की महिलाओं में विवाद हो गया और शाम तक इस विवाद ने बड़ा रूप ले लिया। मृतक की बेटी के मुताबिक, गौरव ने अपने साथियों के साथ मिलकर उसके पिता की गोली मारकर हत्‍या कर दी। वहीं, पुलिस को घटनास्थल से करीब आधा दर्जन खाली कारतूस के खोखे, तीन खोखे 315 बोर व दो पिस्टल के कारतूस मिले हैं, जिन्हें पुलिस ने अपने कब्जे में ले लिया है।

कोरोना से एक और राजनेता की मौत, खंडवा से बीजेपी सांसद नंद कुमार चौहान का निधन

Previous article

शारजाह से लखनऊ आ रहे इंडिगो के विमान की कराची में इमरजेंसी लैंडिंग

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured