तेजस्वी को कभी नहीं आए शादी के लिए 40 हजार प्रस्ताव: नंदकिशोर

तेजस्वी को कभी नहीं आए शादी के लिए 40 हजार प्रस्ताव: नंदकिशोर

पटना। साल 2015 में बिहार में महागठबंधन की सरकार बनने के बाद उस दौरान लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्वी यादव को प्रदेश का सबसे युवा उपमुख्यमंत्री बनाया गया था। लगभग दो साल पहले बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को 40 हजार लड़कियों का शादी के लिए प्रस्ताव आया था, जिसने मीडिया में खुब सुर्खिया बटोरी थी। कहा गया था कि पथ निर्माण विभाग ने उनका व्हाट्सएप नंबर जारी किया था, जिस पर सड़क से जुड़ी शिकायते भेजनी थी,लेकिन शिकायतों की जगह इस नंबर पर तेजस्वी को प्रेम पत्र मिल रहे थे।

इस दौरान उनको करीब 40 हजार लड़कियों ने शादी के लिए प्रपोज किया,लेकिन वर्तमान में बिहार में सरकार चला रही एनडीए के पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव ने कहा है कि तेजस्वी को ऐसे कोई प्रस्ताव नहीं आए थे। किशोर ने कहा कि ये बात वे कोई दुर्भावना से नहीं कह रहे हैं, बल्कि मैंने उन सभी व्हाट्सएप मैसेद को पढ़ा है। बता दें कि उस दौरान तेजस्वी उप मुख्यमंत्री के साथ-साथ बिहार के पथ निर्माण मंत्री भी थे। यादव ने बताया कि आरजेडी के लोग झूठ का पहाड़ हैं।

मैंने व्हाट्सएप मैसेज पढ़ा है उनमें एक भी मैसे तेजस्वी यादव को नहीं आया है और न ही उसमे तेजस्वी के समक्ष 40 हजार लड़कियों शादी का प्रस्ताव रखा है। नंदकिशोर यादव ने कहा कि उन्हें नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव की शादी को लेकर चिंता है। तेजस्वी अपने घर का बच्चा है। उम्र अधिक हो जाने पर शादी नहीं होने से बहकने का खतरा रहता है।नंदकिशोर यादव जब यह चर्चा कर रहे थे तो विधानसभा अध्यक्ष ने उन्हें टोकते हुए कहा कि कोई सरकारी साइट या नंबर मैट्रोमोनियल साइट तो है नहीं कि उस पर शादी का प्रस्ताव आए?