मंत्री गंगवार 28 विश्वकर्मा राष्ट्रीय पुरस्कार व 128 राष्ट्रीय सुरक्षा पुरस्कार वितरित करेंगे

श्रम एवं रोजगार राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) संतोष कुमार गंगवार सोमवार 17 सितंबर, को नई दिल्ली स्थित डॉ.अम्बेडकर इंटरनेशनल सेंटर में प्रदर्शन वर्ष 2016 के लिए विश्वकर्मा राष्ट्रीय पुरस्कार ‘वीआरपी’ और राष्ट्रीय सुरक्षा पुरस्कार (एनएसए) प्रदान करेंगे।श्रम एवं रोजगार मंत्रालय वर्ष 1965 से ही ‘विश्वकर्मा राष्ट्रीय पुरस्कार’ (पहले यह श्रम वीर राष्ट्रीय पुरस्कार के नाम से जाना जाता था) और ‘राष्ट्रीय सुरक्षा पुरस्कार’ प्रदान करता रहा है। इन पुरस्कार योजनाओं का संचालन मंत्रालय के तकनीकी प्रकोष्ठ मुम्बई स्थित फैक्टरी परामर्श सेवा एवं श्रम संस्थान महानिदेशालय ‘डीजीएफएएसएलआई’ द्वारा किया जाता है।

 

 मंत्री गंगवार  28 विश्वकर्मा राष्ट्रीय पुरस्कार व 128 राष्ट्रीय सुरक्षा पुरस्कार वितरित करेंगे
मंत्री गंगवार 28 विश्वकर्मा राष्ट्रीय पुरस्कार व 128 राष्ट्रीय सुरक्षा पुरस्कार वितरित करेंगे

इसे भी पढ़ेःउत्तराखंडःउच्च शिक्षा राज्य मंत्री की अध्यक्षता में उच्च शिक्षा परिषद की बैठक सम्पन्न हुई

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय का एक सम्बद्ध कार्यालय है।डीजीएफएएसएलआई कारखानों एवं गोदी या बंदरगाहों के कर्मचारियों, उनके प्रतिनिधियों और प्रबंधनों को तकनीकी परामर्श व सेवा मुहैया करता है। जिससे कि औद्योगिक गतिविधियों को सुरक्षित बनाया जा सके। और कर्मचारियों के अच्छे स्वास्थ्य एवं खुशहाली को प्रोत्साहित किया जा सके।आपको बता दें कि पिछले कैलेंडर वर्ष के दौरान किसी कर्मचारी अथवा कर्मचारियों के समूह द्वारा दिए गए उन उल्लेखनीय सुझावों के लिए ‘वीआरपी’ दिया जाता है, जिन्हें प्रबंधन द्वारा क्रियान्वित किया जाता है।

इसे भी पढ़ेः  मदरसों के छात्रों का ड्रेस बदलेगी योगी सरकार! राज्य मंत्री मोहसिन रजा ने दी जानकारी

उक्त से उन औद्योगिक उपक्रमों में गुणवत्ता, उत्पादकता और कामकाज की स्थितियों जैसे कि सुरक्षा, स्वास्थ्य एवं पर्यावरण संरक्षण में सुधार होता है जहां ‘सुझाव योजनाएं’ अमल में लाई जा रही हैं।तीन श्रेणियों में नकद पुरस्कार और एक श्रेष्ठता प्रमाण-पत्र के रूप में 28 वीआरपी प्रदान किए जाएंगे। 75,000 रुपये के पांच पुरस्कार ‘ए’ श्रेणी में दिए जाएंगे। 50,000 रुपये के आठ पुरस्कार ‘बी’ श्रेणी में दिए जाएंगे। और 25,000 रुपये के 15 पुरस्कार ‘सी’ श्रेणी में दिए जाएंगे।

औद्योगिक प्रतिष्ठानों, निर्माण स्थलों, बंदरगाहों और परमाणु ऊर्जा नियामकीय बोर्ड (एईआरबी) के अधिनस्त स्थापित प्रतिष्ठानों में उल्लेखनीय सुरक्षा व्यवस्था एवं प्रदर्शन को ध्यान में रखकर एनएसए प्रदान किए जाते हैं। इसके तहत दुर्घटना निवारण कार्यक्रमों में प्रबंधन एवं कर्मचारियों दोनों ही के हितों को प्रोत्साहित करने के साथ-साथ बनाए भी रखा जाता है। 12 योजनाओं के तहत पुरस्कार प्रदान किए जाते हैं जिनमें से 10 योजनाएं कारखानों व निर्माण स्थलों व एईआरबी के अधीनस्थ प्रतिष्ठानों से और दो योजनाएं बंदरगाहों से वास्ता रखती हैं।

प्रत्येक पुरस्कार के तहत हर पुरस्कार विजेता और उप-विजेता को एक शील्ड और एक श्रेष्ठता प्रमाण-पत्र दिया जाता है। प्रतिष्ठानों को सर्वाधिक कार्य-घंटों के आधार पर विभिन्न योजनाओं के तहत वर्गीकृत किया जाता है। प्रदर्शन वर्ष 2016 के लिए कुल मिलाकर 128 पुरस्कार प्रदान किए जाएंगे। जिनमें 76 विजेता और 52 उप-विजेता शामिल हैं।

महेश कुमार यदुवंशी