मेरठ की खाकी का काला कारनामा

मेरठ। जहां एक तरफ मेरठ पुलिस गुड वर्क करने में जुटी है वहीं दूसरी तरफ खाकी का एक ऐसा कारनामा सामने आया है। जिससे खाकी दागदार हुई है।बेखौफ सिपाही की काली करतूत से परेशान एक पुताई मजदूर ने अब एसएससी से अपनी बीवी व परिवार को बचाने की गुहार लगाई है।

pic_blur

मामला मेरठ के मेडिकल क्षेत्र प्रवेश विहार की है जहां मेडिकल क्षेत्र निवासी जोन पुत्र महक सिंह ने आज एसएससी से शिकायत की कि 25-10-16 की रात 9 बजे वह अपने घर जा रहा था परन्तु रास्ते मे प्रवेश विहार में मोटर साईकल पर सवार फैंटम पुलिसकर्मी अभिषेक व रजनीश एंव दो अज्ञात होम गार्डो ने उसे रोक कर सिपाही अभिषेक ने तलाशी के बहाने से जेब से एक महीने की सेलरी के ₹9000 निकाल लिए वह व विरोध करने पर कोने में ले जाकर उसकी पिटाई कर दी।

इसके बाद भी सिपाहियों का मन नहीं भरा तो उसे कहने लगे कि वह अपने घर ले जाकर अपनी बीवी के साथ एक रात सोने दे नहीं तो रोज उसकी इसी तरह पिटाई होगी। मना करने पर सिपाही ने उसके कपड़े उतारकर उसकी बुरी तरफ पिटाई कर दी। साथ ही धमकी दी की अगर वह अपनी बीवी के साथ उसको सोने नहीं देगा तो ठीक ना होगा।

अब इस मामले की फरियाद लेकर वह मजदूर एसएसपी के पास आया था। वह सिपाई जितेंद्र के खिलाफ जल्द ही सख्त से सख्त की मांग कर रहा था था । उसका कहना था कि अगर शीघ्र कार्रवाई नहीं की गई तो वो उसकी बीवी व परिवार को बर्बाद कर देगा।

rahul-gaupta(राहुल गुप्ता, संवाददाता)