featured दुनिया

कोरोना के चलते साल के अंत तक करोड़ो लोग होंगे भूखमरी का शिकार,विश्व खाद्य प्रमुख ने दी चेतावनी

bhukmare 1 कोरोना के चलते साल के अंत तक करोड़ो लोग होंगे भूखमरी का शिकार,विश्व खाद्य प्रमुख ने दी चेतावनी

कोरोना को कहर किस तरह पुरी दुनिया पर टूट रहा है। सभी अपनी आंखों से देख रहे हैं। इस महामारी के चलते लाखों लोग अपनी जान गंवा चुके हैं। और करोड़ों लोग कोरोना से संक्रमित हैं। आने वाले दिनों में हालत और भी ज्यादा खराब हो सकते हैं।इस बीच विश्व खाद्य क्रार्यक्रम के प्रमुख ने एकत ऐसी चेतावनी दे दी है। जिसे सुनकर दुनियाभर के लोगों में डर पैदा हो गया है।
विश्व खाद्य कार्यक्रम के प्रमुख डेविड बिसले ने एक इंटरव्यूह मेंबताया कि अब पूरे विश्व में 82.1 करोड़ लोग रोज रात को भूखे सो रहे हैं, 13.5 करोड़ और लोग ‘‘भूखमरी के संकट या उससे भी बुरे स्तर’” का सामना कर रहे हैं।

bhumare 2 कोरोना के चलते साल के अंत तक करोड़ो लोग होंगे भूखमरी का शिकार,विश्व खाद्य प्रमुख ने दी चेतावनी

विश्व खाद्य कार्यक्रम का एक नया आकलन दिखाता है कि कोविड-19 के परिणामस्वरूप 13 करोड़ लोग “2020 के अंत तक भुखमरी के कगार पर पहुंच जाएंगे।”

बिसले ने बताया कि विश्व खाद्य कार्यक्रम के तहत करीब 10 करोड़ लोगों को रोजाना भोजन उपलब्ध कराया जाता है। इनमें 3 करोड़ लोग ऐसे हैं जो जिंदा रहने के लिए पूरी तरह हम पर निर्भर रहते हैं। उन्होंने आगे कहा कि विश्व खाद्य कार्यक्रम को अमेरिका, ब्रिटेन, जर्मनी, यूरोपीय संघ, जापान और अन्य समृद्ध देशों से समर्थन मिलता है। बिसले ने समझाया कि अगर इन देशों की अर्थव्यवस्था बिगड़ती है तो इससे हमें मिलने वाली मदद प्रभावित होगी और यह विभिन्न तरीकों से विकासशील देशों की स्थानीय अर्थव्यवस्था को प्रभावित करेगा।

https://www.bharatkhabar.com/70000-deaths-from-this-virus-possible-in-america-us-president-donald-trump/

इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अगर विकासित देशों की ऐसी स्थिति बनी रही तो विकासशील देशों के हालात और भी ज्यादा खराब होंगे। आंकड़े वाकई में चौकाने वाले हैं। इस मुसीबत से बचने के लिए हम सबको एकजुट होकर खड़े रहना होगा। वरना लोग इस बीमारी से कम बल्कि भूखमरी से ज्य़ादा लोग मरेंगे।

Related posts

Breaking News

केंद्रीय सूचना आयोग ने मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार की शिकायतों के खुलासे के दिए आदेश

bharatkhabar

Success story: UPSC के लिए दांव पर लगाई नौकरी, तीसरे प्रयास में सफल हुईं विशाखा

Saurabh