वीरे दी वेडिंग -अपशब्दों से भरी भाषा को मिला ‘ए’ सर्टिफिकेट

नई दिल्ली। करीना कपूर खान, सोनम कपूर आहुजा, स्वरा भास्कर और शिखा तल्सानिया स्टारर फिल्म ‘वीरे दी वेडिंग’ की खबरें खूब जोरों पर हैं। बता दे कि ‘वीरे दी वेडिंग’ का ट्रेलर आ चुका है जिसने काफी धमाल मचा रखा है और आमतौर पर इस फिल्म का इंतेजार यंगस्टर्स बड़ी बेसब्री से कर रहें हैं। बता दे कि यह करीना की मां बनने के बाद पहली फिल्म है।

चार सहेलियों की कहानी पर आधारित फिल्म

साथ ही सोनम कपूर की भी यह शादी के बाद पहली रिलीज़ फिल्म होगी।ट्रेलर में चार सहेलियों की कहानी दिखाई गई है। बता दे कि इस फिल्म की रंगीन भाषा को ‘ए’ सर्टिफिकेट मिल चुका है। इस फिल्म की अगर कोई चीज सबसे ज्यादा अट्रैक्ट कर रही है तो वो फिल्म की रंगीन भाषा जो कि अपशब्दों से भरी हुई है। इसलिए यह यंगस्टर्स को बहुत अट्रैक्ट कर रही है। फिल्म एक जून को रिलीज़ होने वाली है।

इसके निर्देशक शशांक घोष हैं। फिल्म की दो निर्माता हैं – एकता कपूर और रिया कपूर। हाल ही में फिल्म ‘वीरे दी वेडिंग’ की सेंसर सर्टिफिकेशन स्क्रीनिंग रखी गई थी। लग रहा था कि इसकी भाषा को बदलने की बात कही जाएगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। रिया कपूर और एकता कपूर की इस फिल्म स्क्रीनिंग में फिल्म में प्रयोग की गई गालियां, अपशब्द, पर कोई आपत्ति नहीं ली गई।

दोनों प्रोड्युसर्स एकता कपूर और रिया कपूर के पापा जीतेन्द्र और अनिल कपूर इसमें शामिल थे।दोनों ने फिल्म का समर्थन किया। सूत्र के अनुसार इसमें जीतेन्द्र और अनिल कपूर दोनों ने वीरे दी वेडिंग में बोली जाने वाली रंगीन भाषा में अपना पक्ष रखा। वे इस बात को मानते है कि आज के युवा ऐसी ही अजीब भाषा बोलते हैं। हालांकि कुछ पैनल सदस्यों ने विरोध भी किया। आखिरकार, बोर्ड के सदस्य भाषा को बनाए रखने के लिए सहमत हुए और फिल्म को ‘ए’ सर्टिफिकेट दिया।

बता दे कि हाल ही में हाल ही में सोनम कपूर अपने शादी की वजह से काफी चर्चा में थी इसके अलावा वो कांस में अपनी ड्रेस को लेकर भी काफी छाई हुई थी हालांकि अब उन्हें सोशल मीडिया पर काफी ट्रोलिंग का सामना करना पड़ रहा है।