लखनऊ के विकास के लिए महापौर ने खोला खजाना, 19 अरब से अधिक का बजट किया पास, जनता पर नहीं डाला कोई बोझ

लखनऊ। राजधानी के विकास के लिए महापौर संयुक्ता भाटिया ने नगर निगम लखनऊ का 19 अरब 46 करोड़ 82 लाख का बजट बुधवार को सर्वसम्मति से पास कर दिया। ये बजट लखनऊ की विभिन्न विकास योजनाओं को संचालित करने के लिए पारित किया गया है।

नगर निगम 2 लखनऊ के विकास के लिए महापौर ने खोला खजाना, 19 अरब से अधिक का बजट किया पास

इस बजट की खास बात ये है कि महापौर संयुक्या भाटिया ने जनता पर कोई नए कर का बोझ नहीं डाला है।

लक्ष्मण जी की विशाल प्रतिमा होगी स्थापित

बजट के बारे में बताते हुए महापौर संयुक्ता भाटिया ने बताया कि लक्ष्मण जी की नगरी में लक्ष्मण प्रेरणा स्थल बनाया जाएगा। इस पार्क में लक्ष्मण जी की 151 फीट ऊंची मूर्ति स्थापित की जाएगी। इसके लिए एक करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

वहीं कोरोना संकट पर चिंता जताते हुए महापौर ने इसके लिए पांच करोड़ रुपए का फंड निर्धारित किया है।

महान क्रांतिकारियों की लगेगी मूर्तियां

इसके साथ ही शहीद दिवस पर वीर सेनानियों को याद करते हुए महापौर ने कहा कि उन्होंने महान क्रांतिकारी भगत सिंह की मूर्ति लगवा दी है। अब अमर शहीद राजगुरु, सुखदेव और भगत सिंह की मूर्ति एक साथ किसी एक पार्क में स्थापित की जाएगी।

उन्होंने बताया कि महिलाओं के लिए महिला बाजार बनाने का काम किया जा रहा है। इसके लिए बजट पास कर दिया गया है। इस बाजार में विक्रेता सिर्फ महिलाएं होंगी और वो महिलाओं से संबंधित सामान की खरीदारी कर सकेंगी।

पार्कों में बनेंगे बेबी फीडिंग सेंटर

वहीं बड़े पार्कों में महिलाओं के लिए यूरिनल और बेबी फीडिंग सेंटर की स्थापना की जाएगी। इसके लिए भी पैसे का इंतजाम कर दिया गया है। उन्होंने जनता से अपील करते हुए कहा कि इस बार वो प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी के कैच द वाटर अभियान में उनका साथ दें और वर्षा जल संचयन की तकनीक को अपनाएं।

बाल्मीकी समाज के लिए बनेगा सामुदायिक केंद्र

महापौर ने कहा कि जो भी पानी को बचाने का काम करेगा उसके गृहकर में पांच प्रतिशत की छूट प्रदान की जाएगी। वहीं बाल्मीकी समाज के लिए स्थान तय करके एक सामुदायिक केंद्र बनाया जाएगा। इसके लिए बजट में 50 लाख रुपये की व्यवस्था की गई है।

कूड़े के ढेर को खत्म करने के लिए रुपए आवंटित

इसके साथ ही भारी बारिश में सुचारू रूप से जलनिकासी के लिए बड़े नालों की सफाई के लिए पांच करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है।

वहीं दो करोड़ रुपए से नए कूड़ाघरों का निर्माण कराया जाएगा। इसके अलावा एक करोड़ रुपए की लागत के शौचालय और मूत्रालय शहर के विभिन्न स्थानों पर बनाए जाएंगे।

कूड़े के ढेर को खत्म करने के लिए सॉलिड वेस्ट पर 36 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसके अतिरिक्त शिक्षा पर 16 करोड़ 36 लाख रुपए खर्च किए जाएंगे।

सभी कॉलेजों में 31 मार्च तक ऑफलाइन कक्षाओं पर रोक, कोरोना को देखते हुए नई गाइडलाइन

Previous article

आरटीओ में मंडलायुक्त ने मारा छापा, पूरे प्रशासन में मचा हड़कंप

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.

More in featured