भारत VS न्यूजीलैंड लिंग्टन के बेसिन रिजर्व मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच में खराब रहा टीम इंडिया का प्रदर्शन, 10 विकेट से हारी

वेलिंग्टन। वेलिंग्टन के बेसिन रिजर्व मैदान पर खेले गए पहले टेस्ट मैच में वर्ल्ड नंबर वन भारतीय टीम का प्रदर्शन दयनीय रहा और न्यूजीलैंड के खिलाफ दोनों ही पारियों में 200 रनों के आंकड़े को भी नहीं छू सकी. परिणाम यह हुआ कि उसे विकेटों के लिहाज से 2013 के बाद सबसे करारी शिकस्त का सामना करना पड़ा. तेज गेंदबाजों टिम साउदी (5) और ट्रेंट बाउल्ट (4) के कहर के आगे भारतीय बल्लेबाज दूसरी पारी में भी बेबस नजर आए. दोनों ने मिलकर दूसरी पारी में 9 विकेट निकाले.

दूसरी पारी में भारत की पूरी टीम महज 191 रनों पर सिमट गई. इस तरह से न्यूजीलैंड को जीत के लिए महज 9 रनों का लक्ष्य मिला जिसे मेजबान टीम ने बिना किसी नुकसान के हासिल कर लिया। टेस्ट क्रिकेट में न्यूजीलैंड की यह 10 विकेट से पांचवीं और भारत के खिलाफ तीसरी जीत है. जबकि भारत की 2013 के बाद विकेट के लिहाज से यह सबसे बड़ी हार है. भारत इससे पहले आखिरी बार 2013 में दक्षिण अफ्रीका के हाथों हारा था.

वर्ल्ड नंबर वन भारत के लिए यह मैच इस मायने में भी निराशाजनक रहा कि 2019 में एक भी टेस्ट मैच नहीं हारने वाली टीम इंडिया ने 2020 में अपना पहला ही टेस्ट मैच हार गई और वह भी 10 विकेट से. 2 मैचों की सीरीज में भारत 0-1 से पिछड़ गया है. आज के खेल में महज 79 मिनट में ही भारतीय पारी सिमट गई और उसके 6 बल्लेबाज आउट हो गए. भारतीय पारी में मयंक अग्रवाल ने सबसे ज्यादा 58 रन बनाए. इसके अलावा अजिंक्य रहाणे ने 29 और ऋषभ पंत ने 25 रनों की पारी खेली और इशांत शर्मा के साथ आठवें विकेट के लिए 27 रनों की साझेदारी की.

चौथे दिन का खेल शुरू होने पर अजिंक्य रहाणे (29)  और हनुमा विहारी ने पारी को आगे बढ़ाया तो महज 4 रन और जोड़ने के बाद यह जोड़ी टूट गई. रहाणे अपने स्कोर में 4 रन तो हनुमा विहारी (15) अपने कल के स्कोर में एक रन भी नहीं जोड़ सके. रहाणे और हनुमा विहारी के बीच 35 रनों की साझेदारी हुई थी. इससे पहले भारत को पहली पारी में 165 रनों पर ढेर करन के बाद तीसरे दिन की शुरुआत 5 विकेट के नुकसान पर 216 रनों से करने वाली न्यूजीलैंड ने पहले सत्र में 348 रनों पर ऑल आउट होने से पूर्व अपने खाते में 123 रनों का इजाफा कर टीम इंडिया पर 183 रनों की बड़ी बढ़त ले ली.

मयंक अग्रवाल ने दिखाया दम

तीसरे दिन दूसरी पारी शुरू करने के बाद टीम इंडिया के लिए अगर कोई बल्लेबाज चल सका था वो रहे सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल जिन्होंने 58 रनों की पारी खेली. तेज गेंदबाज ट्रेंट बाउल्ट ने पृथ्वी शॉ (14), चेतेश्वर पुजारा (11) और कप्तान विराट कोहली (19) को सस्ते में आउट कर मेहमान टीम को संकट में डाल दिया. हालांकि भारत के लिए राहत की बात यह रही कि उपकप्तान अजिंक्य रहाणे और हनुमा विहारी ने तीसरे दिन का खेल खत्म होने तक कीवी टीम को पांचवां विकेट नहीं लेने दिया.

फिर से शीर्ष क्रम नाकाम

दिन के दूसरे सत्र में दूसरी पारी खेलने उतरी भारतीय टीम को पहला झटका 27 रन के कुल स्कोर पर पृथ्वी शॉ के रूप में लगा. इसके बाद चेतेश्वर पुजारा (11) 78 के कुल स्कोर पर टीम के दूसरे विकेट के रूप में आउट हुए. उनके आउट होते ही दूसरे सत्र की समाप्ति की घोषणा कर दी गई. तीसरे और अंतिम सत्र में आने के कुछ देर बाद मयंक अग्रवाल भी टिम साउदी की गेंद पर आउट हो गए. मयंक ने 99 गेंदों पर सात चौके और एक छक्के की मदद से अर्धशतकीय पारी खेली. मयंक का विकेट 96 के कुल स्कोर पर गिरा. फिर ट्रेट बाउल्ट ने कप्तान विराट कोहली (19) को 113 रनों पर पवेलियन भेज भारत को चौथी सफलता दिलाई. कोहली दोनों पारियों में नाकाम रहे.

Rani Naqvi
Rani Naqvi is a Journalist and Working with www.bharatkhabar.com, She is dedicated to Digital Media and working for real journalism.

    दिल्ली जाफराबाद में सीएए को लेकर फिर बिगड़ा माहौल, मेट्रो स्टेशन के नीचे धरने पर बैठी महिलाएं

    Previous article

    जन्मदिन स्पेशल: पूजा भट्ट को थी ये गंदी आदत, पिता की सलह ने बदल दी जिंदगी

    Next article

    You may also like

    Comments

    Comments are closed.

    More in featured