Breaking News featured देश भारत खबर विशेष राजस्थान

सैंपऊ के राजकीय महाविद्यालय में धरना प्रदर्शन, जानें पूरा मामला

dharna pradarshan e1614773000553 सैंपऊ के राजकीय महाविद्यालय में धरना प्रदर्शन, जानें पूरा मामला

राजस्थान- आज राजकीय महाविद्यालय सैंपऊ में छात्रों ने एनएसयूआई इकाई अध्यक्ष गौरव परमार के नेतृत्व में कॉलेज गेट पर धरना प्रदर्शन किया। इस पर गौरव कुमार का कहना है कि सैंपऊ में महाविद्यालय को खुले लगभग 3 वर्ष होने वाले है लेकिन उसमें अभी तक व्याख्याताओं की समुचित व्यवस्था नहीं की गई है।

विधार्थियों को सता रही अपने भविष्य की चिंता –
बताया जा रहा है कि महाविद्यालय में उचित व्याख्याताओं की कमी के चलते छात्रों की पढ़ाई का नुक्सान हो रहा है, तथा विद्यार्थियों का कोर्स भी पूरा नहीं हो पाया है। ऐसे में विद्यार्थियों को अपने भविष्य की चिंता सता रही है। जिसके चलते आज महाविद्यालय में एनएसयूआई इकाई अध्यक्ष गौरव परमार के नेतृत्व में एनएसयूआई कार्यकर्ता एवं राजकीय महाविद्यालय सैंपऊ के समस्त छात्र छात्राओं ने अपनी विभिन्न मांगों को लेकर कॉलेज के गेट पर तालाबंदी की एवं धरना प्रदर्शन किया।

भवन निर्माण में भी हो रही है देरी : गौरव परमार –
बता दे कि बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा के प्रयासों से महाविद्यालय के लिए भूमि का आवंटन करवा दिया गया। उसके लिए पूरी एनएसयूआई टीम विधायक महोदय को धन्यवाद देती है लेकिन जिला एवं ब्लाक प्रशासन की लापरवाही से अभी तक कॉलेज निर्माण के लिए स्वीकृत चिन्हित भूमि का नक्शा या उसके बारे में कोई भी जानकारी प्रशासन द्वारा महाविद्यालय प्रशासन को नहीं बताई गई है। जिसके कारण भवन निर्माण के कार्य में भी देरी हो रही है, जिसे लेकर भी छात्र छात्राओं में काफी रोष है। अतः हम जिला प्रशासन से अपील करते हैं कि जल्द से जल्द हमारी मांगों को पूरा किया जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि हम अपनी मांगों को लेकर बाड़ी विधायक गिर्राज सिंह मलिंगा के पास भी जायेंगे और अपनी समस्याओं से अवगत कराएंगे। इस मौके पर शैलेन्द्र ,रिंकू,सनी सुमन,रामचंद्र कुशवाह, विष्णु,शिवम शर्मा, रेखा,जया,अमीन खान सहित बड़ी मात्रा में को छात्र छात्राएं उपस्थित रहे।

Related posts

देखिए: यूपी-बिहार में कैसे बचाया बारिश ने हाहाकार

Rani Naqvi

आजतक का दावा नहीं फहरा जम्मू कश्मीर में लाल चौक पर तिरंगा

Ravi Kumar

देश विरोधी टिप्पणी पर NCRB ने आंकड़े जारी किए, लिस्ट में सबसे आगे लखनऊ

Neetu Rajbhar