featured देश भारत खबर विशेष साइन्स-टेक्नोलॉजी

देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

electricity poll देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

देश में लगातार बिजली का संकट गहराता जा रहा है । इसका सबसे बड़ा कारण देश में कोयले की कमी है ।

यह भी पढ़े

हरियाणा में अमृत सरोवर योजना की शुरुआत, हर जिले के 75 तालाब बनेंगे अमृत सरोवर

आकंड़ो के मुताबिक़ इस सप्ताह सोमवार को बिजली की कमी जहां 5.24 गीगावॉट थी। वही बृहस्पतिवार को यह बढ़कर 10.77 गीगावॉट हो गई। रविवार को व्यस्त समय में बिजली की कमी सिर्फ 2.64 गीगावॉट थी, जो सोमवार को 5.24 गीगावॉट, मंगलवार को 8.22 गीगावॉट, बुधवार को 10.29 गीगावॉट और बृहस्पतिवार को 10.77 गीगावॉट हो गई।

Electricity Connection 1 देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

आंकड़ों से यह भी पता चला है कि 29 अप्रैल, 2022 को अधिकतम पूरी की गई बिजली की मांग 207.11 गीगावॉट के सर्वकालिक उच्चस्तर को छू गई। इसके चलते शुक्रवार को बिजली की कमी घटकर 8.12 गीगावॉट रह गई। दिलचस्प तथ्य यह है कि देशभर में तेज गर्मी के बीच इस सप्ताह में बिजली की आपूर्ति तीन बार रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची।

turbine electricity देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

बिजली की बढ़ती जा रही है मांग

अधिकतम पूरी की गई बिजली की मांग मंगलवार को रिकॉर्ड 201.65 गीगावॉट पर पहुंच गई। यह सात जुलाई, 2021 को 200.53 गीगावॉट थी। बृहस्पतिवार को बिजली की अधिकतम मांग 204.65 गीगावॉट के रिकॉर्ड स्तर पर थी और शुक्रवार को यह 207.11 गीगावॉट के सर्वकालिक उच्च को छू गई। बुधवार को यह 200.65 गीगावॉट थी।

sun setting behind the silhouette of electricity pylons 1127 2986 देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

इस सप्ताह की शुरुआत में ही अधिकतम पूरी की गई बिजली मांग 199.34 गीगावॉट थी। विशेषज्ञों का कहना है कि इन आंकड़ों से स्पष्ट पता चलता है कि बिजली की मांग में तेजी आई है और कुछ ही दिनों में इसकी वजह से देश में बिजली संकट गहरा गया है। उनका कहना है कि केंद्र और राज्य सरकारों के नेतृत्व में सभी हितधारकों को ताप बिजलीघरों में कम कोयले के भंडार, परियोजनाओं पर रैक को तेजी से खाली करने और इनकी उपलब्धता बढ़ाने पर ध्यान देना होगा।

electricity poll देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

बिगड़ सकते हैं हालात

विशेषज्ञों की माने तो अभी गर्मी की शुरुआत में जब यह हाल है, तो मई और जून की स्थिति का अंदाजा ही लगाया जा सकता है। बिजली मंत्रालय ने कहा था कि मई-जून 2022 में बिजली की मांग लगभग 215-220 गीगावॉट तक पहुंच सकती है।

electricity price hike uttarakhand देश में लगातार गहराता जा रहा है बिजली का संकट, सप्लाई में हो रही भारी कमी

 

Related posts

अब सामान्य हालात में है कश्मीर, पाबंदियों में कई जगह मिली ढील

Trinath Mishra

कांग्रेस के दिग्गज नेता ऑस्कर फर्नांडिस का हुआ निधन, योग करते हुए सर में लगी थी चोट

Neetu Rajbhar

वित्त वर्ष 2019 की तीसरी तिमाही में एक्सिस बैंक को 1,680.8 करोड़ रुपये का मुनाफा

Rani Naqvi