featured देश राज्य

तेलंगाना और आंध्र प्रदेश को PM का तोहफा,वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

वंदे भारत

 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज तेलंगाना और आंध्र प्रदेश को वंदे भारत एक्सप्रेस का शानदार तोहफा दिया। प्रधानमंत्री मोदी ने आज सुबह सिकंदराबाद-विशाखापत्तनम वंदे भारत एक्सप्रेस को हरी झंडी दिखाई।

यह भी पढ़े

USA की गैब्रिएल बनीं मिस यूनिवर्स, भारत की हरनाज ने पहनाया ताज

 

इस मौके पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि यह ट्रेन तेलंगाना और आंध्र प्रदेश की साझा संस्कृति और साझा विरासत को जोड़ने का काम करेगी। यह ट्रेन भारत के संकल्पों और सामर्थ्य का प्रतीक है। प्रधानमंत्री ने कहा कि वंदे भारत प्रोजेक्ट भारत के आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ते कदम का बड़ा संकेत है। यह प्रोजेक्ट उस भारत का प्रतीक है जो तेजी से बदलाव के रास्ते पर चल रहा है। इस मौके पर प्रधानमंत्री ने देश के लोगों को सेना दिवस की शुभकामनाएं भी दीं।

 

 

प्रधानमंत्री मोदी ने आज जिस वंदे भारत ट्रेन को हरी झंडी दिखाई है वह आंध्र प्रदेश और तेलंगाना को जोड़ने वाली पहली वंदे भारत ट्रेन है। सिकंदराबाद से विशाखापत्तनम की दूरी करीब 700 किलोमीटर है और यह ट्रेन 700 किलोमीटर की दूरी महज 8 घंटे में तय करेगी। ट्रेन को हरी झंडी दिखाते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने आंध्र प्रदेश और तेलंगाना दोनों राज्यों के लोगों को बधाई दी।

pm modi in vande bharat तेलंगाना और आंध्र प्रदेश को PM का तोहफा,वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

उन्होंने कहा कि वंदे भारत ट्रेन भारत की उत्तरोत्तर प्रगति के साथ ही गुलामी की मानसिकता से निकलकर आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ने का प्रतीक है। वंदे भारत ट्रेन को देश में ही बनाया गया है जो इस बात का संकेत है कि देश काफी तेजी से आत्मनिर्भरता की ओर बढ़ रहा है। यह ट्रेन देश की साझा संस्कृति और आस्था को जोड़ने का काम कर रही है। प्रधानमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए देश को आठवी वंदे भारत ट्रेन की सौगात दी। देश की पहली वंदे भारत ट्रेन राजधानी दिल्ली से वाराणसी के बीच चलाई गई थी और प्रधानमंत्री ने 15 फरवरी 2019 को इस ट्रेन की शुरुआत की थी।

vande bharat2 तेलंगाना और आंध्र प्रदेश को PM का तोहफा,वंदे भारत एक्सप्रेस को दिखाई हरी झंडी

प्रधानमंत्री ने कहा कि आंध्र प्रदेश में पिछले 8 वर्षों के दौरान 350 किलोमीटर लंबी रेलवे लाइन बिछाने का काम पूरा किया गया है। इसके साथ ही 800 किलोमीटर की मल्टी ट्रैकिंग का काम भी किया गया है। पहले की सरकार के समय आंध्र प्रदेश में सालाना 60 किलोमीटर रेलवे ट्रैक का इलेक्ट्रिफिकेशन होता था। आज यह रफ्तार काफी बढ़ चुकी है और 220 किलोमीटर सालाना के स्तर पर पहुंच चुकी है।

 

प्रधानमंत्री मोदी ने आज जिस वंदे भारत को हरी झंडी दिखाई है वह आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के तीन-तीन स्टेशनों पर रुकेगी। यह ट्रेन आंध्र प्रदेश में विशाखापट्टनम, राजमुंदरी और विजयवाड़ा रेलवे स्टेशनों पर रुकेगी जबकि तेलंगाना में खम्मम, वारंगल और सिकंदराबाद में ट्रेन का स्टॉपेज होगा। 11 जनवरी को विशाखापट्टनम में इस ट्रेन पर पथराव किया गया था। इस पथराव के दौरान वंदे भारत ट्रेन के एक कोच का शीशा क्षतिग्रस्त हो गया था। इस मामले में केस दर्ज करके आगे की जांच पड़ताल की जा रही है।

Related posts

हरियाणा में कोरोना संकट:  5 जिलों में बढ़ाई गई पाबंदी, लॉकडाउन जैसे बने हालात

Saurabh

जम्मू-कश्मीर: नमाज पढ़ कर लौट रहे पुलिसकर्मी की आतंकियों ने गोली मारकर की हत्या

rituraj

रोहिणी कोर्ट में हुई ताबड़तोड़ फायरिंग, गैंगस्टार जितेंद्र गोगी समेत 4 लोगों की मौत

Rani Naqvi