featured भारत खबर विशेष

बैन से बुरी तरह टूटे नरसिंह कहा: फैसले ने तहस-नहस कर दिया

nir singh yadav बैन से बुरी तरह टूटे नरसिंह कहा: फैसले ने तहस-नहस कर दिया

नई दिल्ली। विश्व की सबसे बड़ी खेल अदालत-कोर्ट फॉर अर्बिट्रेशन फॉर स्पोर्ट (सीएएस) ने गुरुवार को लम्बी सुनवाई के बाद भारतीय पहलवान नरसिंह यादव को डोपिंग मामले में क्लीन चिट दिए जाने के खिलाफ दायर विश्व डोपिंग निरोधी एजेंसी (वाडा) की अपील को स्वीकार कर लिया। भारतीय पहलवान नरसिंह यादव पर डोपिंग की वजह से चार साल का बैन लगा दिया गया है।

nir singh yadav

इस पूरे मामले ने न‍रसिंह यादव को बुरी तरह तोड़ दिया है। नरसिंह ने कहा कि बीते दो महीनों में मैंने बहुत कुछ सहा है। लेकिन इस दौरान मेरे मन में सिर्फ एक बात थी कि देश के सम्मान के लिए लड़ना है। नरसिंह ने कहा है कि इस फैसले ने उन्हें तहस-नहस कर दिया है। उन्होंने कहा कि वह अपनी बेगुनाही साबित करने के लिए हरसंभव प्रयास करेंगे।

वाडा ने अपनी अपील में नरसिंह को राष्ट्रीय डोपिंग निरोधी एजेंसी (नाडा) द्वारा क्लीन चिट दिए जाने को गलत करार दिया था और उन पर प्रतिबंधित दवाओं के सेवन को लेकर चार साल का प्रतिबंध लगाने की मांग की थी। अब जबकि सीएएस ने वाडा की अपील स्वीकार कर ली है, नरसिंह का भविष्य अंधकारमय नजर आ रहा है। वह अब रियो ओलम्पिक में हिस्सा नहीं ले पाएंगे। रियो में भारतीय प्रतिनिधिमंडल के प्रमुख राकेश गुप्ता ने सुनवाई के बाद कहा, “यह बेहद दुखद: और दुर्भाग्यपूर्ण है। हम सुनवाई के अंतिम चरण तक आशान्वित थे। हमें उम्मीद थी कि नरसिंह को क्लीन चिट मिल जाएगा लेकिन ऐसा हो नहीं सका। यह बेहद दुखदाई है क्योंकि नरसिंह में पदक जीतने की क्षमता है।”

उल्लेखनीय है कि 25 जून और पांच जुलाई को लिए गए सैंपलों के आधार पर नाडा ने नरसिंह को प्रतिबंधित पदार्थ के सेवन का आरोपी करार दिया था लेकिन नरसिंह ने कहा था कि उन्हें फंसाया गया है। इसके बाद नाडा ने एक लम्बी सुनवाई के बाद नरसिंह को आरोपमुक्त कर दिया था। वाडा ने इसी के खिलाफ सीएएस में अपील की थी, कि आखिरकार डोप में फंसे एक खिलाड़ी के इस तरह कैसे क्लीन चिट दी जा सकती है, जबकि उसके पास पाक-साफ होने का कोई सबूत नहीं है।

Related posts

लापता सैन्य विमान का अब भी कोई सुराग नहीं

bharatkhabar

नरेश अग्रवाल का मुंह काला कर सिर मूंडने वाले को मिलेगा इनाम- शारदा

Pradeep sharma

पाकिस्तान को लगा फिर बड़ा झटका, अमेरिका ने लगाई डिफेंस फंडिंग पर शर्ते

Pradeep sharma