Breaking News featured देश भारत खबर विशेष

क्या मॉब लींचिग प्रजातंत्र का दुष्परिणाम है?

IMG 20180706 WA0006 क्या मॉब लींचिग प्रजातंत्र का दुष्परिणाम है?

जब भीड़ ही फैसला करने लगे तो उस देश का क्या होगा ? जब भीड़ ही गलत और सही मे फर्क करने लगे तो न्याय व्यवस्था का क्या काम ? कही ऐसा तो नही कि बुद्धिजीवियों के नजर मे यही प्रजातंत्र है ? अगर कुछ लोग अराजकता के इतने मुरीद हो ही गए हैं तो प्रशासन आखिर क्या कर रहा है? मॉब लींचिग के बढ़ते हुए मामलो को देखकर तो यही प्रतीत होता है कि भारत मे अब न्याय व्यवस्था की जरुरत नही है, जब लोग ऑन द स्पॉट फैसला कर ही दे रहे हैं तो पुलिस और कोर्ट का क्या काम? असम से लेकर तमिल नाडू तक के पुलिस स्टेशन मॉब लींचिग के केसेस से भरे पड़े हैं। कलयुग आज अपने नाम का प्रकोप छोड़ रहा है और सच अफवाहों के मुकाबले हार जा रहा है। ज्यादातर केस बच्चा चोरी के अफवाहों के बिनाम पर हुआ है। आज अगर आप किसी बच्चे को टॉफी देते हैं तो भी आप पर खतरा है, आपको कभी भी कोई कूट सकता है। आप अगर किसी से रास्ता पुछते हैं तो भी डर बना रहता है कि कही वो आपके धर्म से आपके नियती का अंदाजा लगाकर आपको धुन ना दे। विगत एक साल के अंतराल मे 27 लोग अपना जान गंवा चुके हैं। भीड़ ने अपना फैसला सुनाया और ऑन द स्पॉट सजा को ऐलान हो गया। पुलिस मौके पर पहुँच कर भी सिर्फ उन लोंगो के शव लाने के काम आ सकी।IMG 20180706 WA0006 क्या मॉब लींचिग प्रजातंत्र का दुष्परिणाम है?

ये बात मानसिक रुप से विकलांग लोंगो की थी, लेकिन भारत के नेता तो और भी निराले हैं। केन्द्रीय मंत्री किरन रिजीजू ने मॉब लींचिग को विदेशी षड्यंत्र करार देते हुए ये भी कहा है कि ये विपक्ष की चाल है, विपक्ष ये सब करवा रहा है ताकि सरकार सही ढ़ग से काम ना कर पाए। कोई ये नही सोच रहा है कि कैसे इस बिमारी से निजाद पाया जाए। सवाल ये भी उठता है कि क्या सोशल मीडिया अब अराजकता फैलाने के काम आ रहा है? आखिर मॉब लींचिग मोदी सरकार के कार्यकाल मे ही क्यों तुल पकड़ रहा है? क्या वाकई मोदी सरकार जीरो टोलरेंस के अपने वादे पर कायम है? इन सब सवालों के बीच ये भी अहम हो जाता है कि कैसे हम इस प्रकार के घटना को रोकेंगे?

Related posts

आरटीआई में पूछा गया कब मिलेंगे 15 लाख, पीएमओ ने दिया ये जवाब

lucknow bureua

सैनिकाें को लेकर दिए विवादित बयान में फंसे महाराष्ट्र के विधान परिषद सदस्य

Rahul srivastava

पंजाब में बीजेपी की लगातार तीसरी हार के बाद सांपला पर लटकी तलवार

Breaking News