featured क्राइम अलर्ट मध्यप्रदेश

Madhya Pradesh: काले हिरण के शिकारियों और पुलिस में मुठभेड़, फायरिंग में तीन पुलिसकर्मी शहीद

768 512 15281360 thumbnail 3x2 images Madhya Pradesh: काले हिरण के शिकारियों और पुलिस में मुठभेड़, फायरिंग में तीन पुलिसकर्मी शहीद

Madhya Pradesh: मध्य प्रदेश के गुना में काले हिरण, मोर आदि प्रतिबंधित पशु पक्षियों का शिकार कर भाग रहे शिकारियों को जब पुलिस ने घेरने की कोशिश की तो शिकारियों ने ताबड़तोड़ गोलियां चलाई। इस मुठभेड़ में तीन पुलिसकर्मियों की मौत हो गई।

ये भी पढ़ें :-

Mundka Fire: मुंडका अग्निकांड में पुलिस ने फैक्ट्री मालिक के दोनों बेटे को किया गिरफ्तार, केजरीवाल करेंगे दौरा

घटना की सूचना पर आला अधिकारी समेत तीन थानों का पुलिस बल मौके पर पहुंचा। पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इसके साथ ही एक घायल ड्राइवर को जिला अस्पताल में भर्ती कराया है, जहां उपचार जारी है। घटना स्थल से काले हिरण के शव भी बरामद हुए हैं।

पुलिस को मिली थी शिकारियों की चहल कदमी की सूचना
पुलिस अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक आरोन थाना क्षेत्र के गांव के आसपास शिकारियों की चहल कदमी की सूचना पुलिस को मिली थी। रात करीब 3 बजे के आसपास आरोन थाना क्षेत्र के उप निरीक्षक राजकुमार जाटव, आरक्षक संतराम मीणा और नीरज भार्गव टीम के साथ शिकारियों को पकड़ने के लिए पहुंचे थे।

जब पुलिस अधिकारी और कर्मचारियों ने शिकारियों को पकड़ने की कोशिश की तो आरोपियों ने ताबड़तोड़ गोलियां चला दी। इस मुठभेड़ में राज कुमार जाटव, संतराम और नीरज को गोलियां लगी. इसके बाद उनकी दुखद मौत हो गई।

शहीदचार काले हिरण के शव मिले
घटनाक्रम वाली जगह पर बदमाशों द्वारा छोड़े गए 3-4 काले हिरण भी मृत अवस्था में पाए गए। इसके साथ ही कुछ अवशेष मोर के मिले हैं। इस मामले में पुलिस के हाथ कुछ सुराग लगे हैं, जिसके आधार पर आरोपियों की तलाश की जा रही है। बताया जाता है कि शिकारियों की संख्या 3 या 3 से अधिक हो सकती है।

Related posts

कड़ी सुरक्षा के बीच दूसरे चरण का मतदान शांतिपूर्ण संपन्न

Samar Khan

ग्रेटर नोएडा: तमाम दावे हुए फेल, 5वीं के छात्र के साथ 3-4 साल तक होता रहा कुकर्म

Pradeep sharma

जब एक वोट से गिर गई थी अटल बिहारी बाजपेयी की सरकार

mahesh yadav