e1fe2fdf df5c 45ed 9f5d bb366c53b56e कंगना ने 'Zomato' पर साधा निशाना, कहा- हमारे चक्कर में तुम सड़क पर मत आ जाना
फाइल फोटो

बाॅलीवुड। फिल्म इंडस्ट्री में चर्चित अभिनेत्री कंगना रनौत अपने तड़कते-भड़कते अंदाज के लिए पहचानी जाती हैं। आए दिन उनकी तरफ से किसी न किसी को लेकर निशाना साधने को लेकर चर्चाओं में बनी रहती हैं। कृषि आंदोलन को लेकर भी कंगना ने किसानों पर निशाना साधा था। जिसके बाद पंजाबी सिंगर दिलजीत दोसांझ और कंगना के बीच ट्वीटर वाॅर हो गया था। इसके साथ ही अब कंगना के निशाने की सुई फूड डिलीवरी कंपनी जोमैटो पर आकर टिक गई है। कंगना का कहना है कि उनके खिलाफ हुए हर ट्वीट को जोमैटो सपोर्ट कर रहा था। कंगना रनौत ने जोमैटो पर निशाना साधते हुए कहा कि बॉलीवुड इंडस्ट्री में तो लोग पल में लड़ते हैं और पल में ही एक हो जाते हैं। लेकिन इसके चक्कर में सड़क पर मत आ जाना।

कंगना ने जोमैटो की सर्विस को बताया बेहद खराब-

बता दें कि दरअसल कंगना ने एक खबर का जोमैटो से जुड़ी एक खबर का हवाला दिया, जिसमें जोमैटो की सर्विस को खराब बताया गया है। इस साल उनका परफॉर्मेंस काफी निराशाजनक बताया गया है। कंगना रनौत ने ट्वीट में लिखा,”मैंने देखा है कि जोमैटो का ट्विटर हैंडल मेरे और दिलजीत के बीच रेफ्री का किरदार निभा रहा था। वो लगातार मेरे खिलाफ बोल रहे थे और उस ट्रेंड का भी सपोर्ट कर रहे थे, जहां पर मुझे रेप की धमकी मिल रही थी। हम एक इंडस्ट्री में करते हैं। आज लड़ेंगे कल एक हो जाएंगे। तुम अपना देखो हमारे चक्कर में सड़क पर मत आ जाना भाई। इसके साथ वह हंसने वाले इमोजी शेयर करती हैं।

कंगना ने दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा को लेकर साधा था निशाना-

कंगना रनौत और दिलजीत के बीच ट्विटर पर कई बार जुबानी जंग हो चुकी है। इतना ही नहीं कंगना ने एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा पर भी किसान आंदोलन का समर्थन करने पर निशाना साध चुकी हैं। कंगना ने दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा को टैग करते हुए लिखा, “प्रिय दिलजीत दोसांझ और प्रियंका चोपड़ा अगर सच में किसानों की चिंता है, अगर सच में अपनी माताओं का आदर सम्मान करते हो तो सुन तो लो आख़िर फ़ार्मर्ज़ बिल है क्या! या सिर्फ़ अपनी माताओं, बहनों और किसानों का इस्तेमाल करके देशद्रोहियों की गुड बुक्स में आना चाहते हो? वाह रे दुनिया वाह”।

कांग्रेस बैठक से पहले शिवानंद तिवारी की सोनिया गांधी को नसीहत, कहा- पुत्र मोह त्याग कर देशहित में फैसला लें

Previous article

शिक्षक भर्ती अभ्यर्थियों ने किया स्वतंत्र देव सिंह के घर के बाहर प्रदर्शन, अधिकारयों पर लगाया लापरवाही का आरोप

Next article

You may also like

Comments

Comments are closed.